Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

FII ने BSE की 80 कंपनियों में निवेश बढ़ाया, क्या आपको करना चाहिए निवेश?

जून 2019 में विदेशी निवेशकों ने BSE की 84 कंपनियों के शेयरों में निवेश किया है
अपडेटेड Jul 17, 2019 पर 11:34  |  स्रोत : Moneycontrol.com

BSE की 84 कंपनियों में विदेशी निवेशकों ने पैसा लगाया है। 15 जुलाई को जारी शेयरहोल्डिंग डाटा के मुताबिक, जून 2019 में विदेशी निवेशकों ने BSE की 84 कंपनियों के शेयरों में निवेश किया है।


इन शेयरों में  HDFC, HUL, SBI, ONGC, Coal India, NTPC, Bajaj Finserv, IOC, Power Grid, SBI Life Insurance, NMDC, Muthoot Finance, Corporation Bank और Aarti Industries सहित कई दूसरी कंपनियां हैं।


क्या आपको इनमें निवेश करना चाहिए?


जानकारों का कहना है कि किसी शेयर में सिर्फ इसलिए निवेश नहीं करना चाहिए कि विदेशी निवेशकों ने उसमें पैसा लगाया है।


SAMCO सिक्योरिटीज के हेड ऑफ रिसर्च उमेश मेहता ने मनीकंट्रोल को बताया कि विदेशी निवेशक यानी FII अगर किसी शेयर में दिलचस्पी ले रहे हैं तो यह आपके लिए संकेत हो सकता है लेकिन सिर्फ इसी आधार पर निवेश करना गलत है। FII पर अपने पोर्टफोलियो को संतुलित करने का दबाव रहता है और वे इसी हिसाब से शेयर खरीदते या बेचते हैं। ऐसे में आम निवेशकों को उन्हें आंख मूंदकर नहीं मानना चाहिए।


मेहता का कहना है कि HDFC Bank और HUL में आने वाले निवेश को सही ठहराया जा सकता है क्योंकि इनकी ग्रोथ आकर्षक है। लेकिन छोटे निवेशकों को सिर्फ FII की पसंद पर नहीं चलना चाहिए।


FII कमोडिटी की कीमतों में नरमी देखकर ONGC और कोल इंडिया में निवेश कर सकते हैं लेकिन छोटे निवेशकों को अभी इनमें निवेश नहीं करना चाहिए।


जानकारों का कहना है कि छोटे निवेशक अपनी गाढ़ी कमाई शेयरों में लगाते हैं लिहाजा वे कंपनी के बहीखातों को अच्छी तरह समझते और ड्यू डिलिजेंस करते हैं। FII और छोटे निवेशकों की रिस्क लेने की क्षमता भी कम होती है।


CapitalAim के हेड ऑफ रिसर्च रोमेश तिवारी ने कहा कि SBI life insurance या Godrej Properties जैसे कोई बड़ा बदलाव होता है तो छोटे निवेशकों को पैसा लगाने के बारे में सोचना चाहिए। तिवारी ने कहा कि मीडियम टर्म में  SBI, SBI life insurance, Godrej Properties, HDFC और NTPC का परफॉर्मेंस बेहतर रह सकता है।


जून तिमाही में FII ने 100 से ज्यादा कंपनियों में निवेश बढ़ाया है। इनमें HDFC Bank, Bank of Baroda, Ambuja Cements, Biocon, OFSS और Cadila Healthcare जैसी कई दूसरी कंपनियां हैं।


जून तिमाही के दौरान इंडिया में FII का नेट इनवेस्टमेंट 10,000 करोड़ रुपए रहा। FII ने इसका 2,272.74 करोड़ रुपए इक्विटीज और 8,111.80 करोड़ रुपए डेट में निवेश किया है।


निवेश के विचार एक्सपर्ट्स के निजी हैं।