Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

बिस्कुट और ऑटो सेक्टर को नहीं मिलेगी GST में राहत

फिटमेंट कमिटी ने लिखित तौर पर यह बता दिया है कि वह इस बार बैठक में GST में कटौती का मुद्दा नहीं उठाएगी
अपडेटेड Sep 19, 2019 पर 08:54  |  स्रोत : Moneycontrol.com

GST काउंसिल की 37वीं बैठक शुक्रवार 20 सितंबर को होने वाली है। इस बैठक में GST काउंसिल, फिटमेंट कमिटी की तरफ से उठाए मुद्दों पर चर्चा करने वाली है। इस कमिटी में केंद्र सरकार और राज्य सरकार की तरफ से प्रतिनिधि शामिल हैं। 


सूत्रों के मुताबिक, फिटमेंट कमिटी ने इस बैठक में बिस्कुट और ऑटो सेक्टर को GST से राहत देने से इनकार कर दिया है। इस महीने की शुरुआत में ही GST कमिटी ने कहा था कि अगर वह छूट देने का फैसला करती है तो सरकारी खजाने से 50,000 करोड़ रुपए कम हो जाएंगे।


अब फिटमेंट कमिटी ने लिखित तौर पर यह बता दिया है कि वह इस बार बैठक में GST में कटौती का मुद्दा नहीं उठाएगी।


CNBC-TV18 के मुताबिक, PwC इंडिया के लीडर (इनडायरेक्ट टैक्स) प्रतीक जैन ने कहा, कुल मिलाकर यह एक राजनीतिक फैसला है। अगर आप 17 नवंबर का दिन याद करें तो फिटमेंट कमिटी ने रेट कट नहीं किया। लेकिन इसके बाद सरकार ने रेट कट का फैसला ले लिया। यानी फिटमेंट कमिटी कोई मुद्दा उठाए या नहीं, GST में कटौती का आखिरी फैसला GST काउंसिल का है।


जैन ने कहा, मुझे उम्मीद है कि सरकार इस बात का अहसास करेगी कि मांग कम हो गई है और रेट कट कर सकती है। रेट कट का मतलब जरूरी नहीं है कि उससे रेवेन्यू में कमी आए। ऑटो जैसे सेक्टर पर सरकार दोबारा विचार कर सकती है लेकिन बिस्कुट जैसे प्रोडक्ट के GST में कटौती की उम्मीद फिलहाल नहीं है।     


GST फिटमेंट कमिटी ने प्रस्ताव रखा है कि 7500 रुपए तक के होटलों पर GST 28 फीसदी से घटाकर 18 फीसदी कर दिया जाए। इसके साथ ही लॉटरी के टिकटों पर भी GST घटाने का फैसला हो सकता है। सरकार विचार कर रही है कि लॉटरी पर 18 फीसदी या 28 फीसदी GST लग सकता है


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।