Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

1 अक्टूबर से लोन हो जाएगा सस्ता, RBI ने जारी किया सर्कुलर

अक्टूबर से होम लोन, पर्सनल लोन, रिटेल लोन और MSME सेक्टर को एक्सटर्नल बेंचमार्क के तहत लोन दिया जाएगा
अपडेटेड Sep 05, 2019 पर 13:14  |  स्रोत : Moneycontrol.com

अक्टूबर से होम लोन, पर्सनल लोन, रिटेल लोन और MSME सेक्टर को एक्सटर्नल बेंचमार्क के तहत लोन दिया जाएगा। 


 रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने सभी बैंकों को सर्कुलर जारी करते हुए कहा है कि होम लोन, पर्सनल लोन, रिटेल लोन और MSME सेक्टर को सभी नए लोन अब एक्सटर्नल बेंचमार्क से जोड़े जाएंगे। इससे नीतिगत ब्याज दरों में कटौती का लाभ लोन लेने वालों को मिलेगा। हालांकि पहले से चल रहे लोन पुराने तरीके से MCLR , बेस रेट या BPLRसे तब तक जुड़े रहेंगे। जब तक कि उनका रिपेमेंट नहीं हो जाता। बैंक किसी भी तरह का बेंचमार्क सेलेक्ट करने के लिए स्वतंत्र हैं।


 RBI ने जारी किए गए अपने बयान में कहा है कि, MCLR बेस्ड लोन जिसमें ब्याज दर में बदलाव होता है। उसके नतीजे सही नहीं है। लिहाजा RBI ने सभी बैंकों को एक सर्कुलर जारी करते हुए अनिवार्य कर दिया है कि वो 1 अक्टूबर 2019 से पर्सनल, रिटेल, MSME सेक्टर को दिए जाने वाले नए लोन को फ्लोटिंग ब्याज दर को एक्सटर्नल बेंचमार्क से जोड़ दें।


केंद्रीय बैंक ने कहा है कि एक्सटर्नल बेंचमार्क बेस्ड ब्याज दर को तीन महीने में कम से कम एक बार नए सिरे तय करना जरुरी होगा। तकरीबन एक दर्जन बैंक अपने लोन को रिजर्व बैंक के रेपो रेट से जोड़ चुके हैं। हालांकि रिजर्व बैंक ने इस बात को लेकर काफी नाराजगी जताई है कि नीतिगत ब्याज दरों में कटौती किए जाने के बावजूद भी ब्याज दरों में कटौती नहीं कर रहे हैं। 


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।