Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

पार्किंग स्पेस के लिए होमबायर्स को चुकानी होगी ज्यादा रकम

एक्सपर्ट्स का कहना है कि इस फैसले के बाद एकबार फिर इस मुद्दे पर नए सिरे से बहस शुरू हो जाएगी
अपडेटेड Oct 04, 2019 पर 08:54  |  स्रोत : Moneycontrol.com

घर खरीदारों और बिल्डर्स को पार्किंग स्पेस और दूसरी सब्सिडियरी सर्विसेज पर GST रेट्स पर जो राहत मिल रही थीं, वह ज्यादा दिनों तक बरकरार नहीं रहेगी। अथॉरिटी फॉर एडवांस रूलिंग (AAR) ने पहले GST की दरों में जो राहत दी थी वह खत्म हो सकती है।


पश्चिम बंगाल की AAR ने पहले यह फैसला लिया था कि प्रीफरेंशियल लोकेशन चार्जेज (PLC), पार्किंग स्पेस, कॉमन एरिया मेंटेनेंस को मेन कंस्ट्रक्शन सर्विस से जोड़ दिया जाएगा। इस तरह की सर्विसेज पर GST में एक तिहाई छूट मिलती थी। तकनीकी तौर पर इसे अबेटमेंट रेट कहते हैं।


हालांकि, अपीलीय अथॉरिटी ऑफ एडवांस रूलिंग (AAAR) ने इस फैसले को साइड कर दिया था। AAAR ने उसी ट्रांजैक्शन मैकेनिज्म को बरकरार रखा है जिसके तहत अलग-अलग फ्लोर या अलग लोकेशन के लिए बिल्डर अलग-अलग रेट वसूलते थे।


एक्सपर्ट्स का कहना है कि इस फैसले के बाद एकबार फिर इस मुद्दे पर नए सिरे से बहस शुरू हो जाएगी। उनका कहना है कि इस पर आखिरी फैसला आने में वक्त लगेगा, तब तक होम बायर्स को इसका बोझ उठाना होगा। 


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।