Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

Lockdown 4.0: कहीं आने-जाने के लिए जानिए कैसे बनेगा ऑनलाइन पास

लॉकडाउन के दौरान अगर आपको इमरजेंसी घर जाना पड़े तो आपको ई-पास की जरूरत पड़ेगी
अपडेटेड May 21, 2020 पर 08:57  |  स्रोत : Moneycontrol.com

पूरी दुनिया में कोरोना काल चल रहा है। इसके प्रसार को रोकने के लिए लॉकडाउन (Lockdown 4 )घोषित किया गया है। देश में चौथे चरण का लॉकडाउन घोषित किया जा चुका है। जो कि 31 मई तक चलेगा। हालांकि इस लॉकडाउन में काफी ढील दी गई है। अगर आपको कोई विशेष काम पड़ जाता है और आपको एक राज्य से दूसरे राज्य की यात्रा करनी है। इसके लिए आपको ई-पास की जरूरत पड़ेगी। इस ई-पास को हासिल करने के लिए केंद्र सरकार ने एक वेबसाइट लॉन्च की है। जिसका नाम https://serviceonline.gov.in/epass/ है।


ई-पास बनवाने के लिए नीचे दिए गए नियमों का पालन करें।


1- सबसे पहले आपको https://serviceonline.gov.in/epass/ साइट पर विजिट करना होगा। इसमें आपको Select State to Apply e-pass पर क्लिक करना होगा। फिर आपको जिस राज्य की यात्रा करनी है उस राज्य को सेलेक्ट करना होगा।


2-  इसके बाद आप जिस राज्य को सेलेक्ट करेंगे, उस राज्य का आधिकरिक पेज का लिंक सामने आ जाएगा। इस लिंक पर क्लिक करने पर संबंधित राज्य का पेज खुल जाएगा।


3- इसके बाद आपको Apply Epass  में जाना होगा। जहां पर आपको अपना मोबाइल नंबर कैप्च कोड भरना होगा। फिर आपके दिए गए मोबाइल पर OTP नंबर आएगा। इस OTP को भरें।


4 - इसके बाद आपको अपने डॉक्यूमेंट्स अपलोड करने होंगे। साथ में एक एप्लीकेसन भी लगाने की जरूरत है।


5 - एक बार डॉक्यूमेंट्स सब्मिट होने के बाद सरकार तय करेगी कि आपको ई-पास जारी करना है या नहीं।


6 - अगर आपकी एप्लीकेशन स्वीकार कर ली गई और –पास जारी कर दिया जाता है तो रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर में आपको SMS भेजा जाएगा।


ई-पास जारी होने के बाद आप संबंधित राज्य की यात्रा कर सकते हैं। यात्रा के दौरान आपको एक हार्ड कॉपी या सॉफ्ट कॉपी अपने पास रखना होगा। सुरक्षा कर्मियों के मांगे जाने पर आपको दिखाना होगा।


National Informatics Centre (NIC) की वेबसाइट के मुताबिक अब तक तकरीबन 33.4 लाख लोगों ने आवेदन किया है। जहां सरकार ने करीब 11 लाख लोगों को ई-पास जारी कर दिया है। 9 लाख एप्लीकेशन अभी अंडर प्रॉसेस हैं। जबकि 11 लाक आवेदन खारिज किए जा चुके हैं।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें