Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

अमेरिकी पाबंदी के बाद Huawei का नुकसान अनुमान से ज्यादा

प्रकाशित Tue, 18, 2019 पर 12:35  |  स्रोत : Moneycontrol.com

अमेरिका ने चीनी टेलीकॉम कंपनी ह्युवेई (Huawei) पर जो पाबंदिया लगाई थीं, उसका खामियाजा अब कंपनी पर नजर आने लगा है। Huawei के फाउंडर ने सोमवार को कहा कि अमेरिकी पाबंदी के कारण अगले दो साल में उनकी कंपनी को 30 अरब डॉलर का लॉस होगा।


कंपनी के CEO रेन जेंगफेई ने कहा, हमने कभी नहीं सोचा था कि अमेरिका Huawei पर इस तरह अटैक कर सकता है। रेन ने कहा कि कंपनी अपनी क्षमता कम करेगी। आसार हैं कि अगले दो साल में कंपनी की आमदनी घटकर 100 अरब डॉलर रह जाएगी। 2018 में कंपनी की आमदनी 105 डॉलर थी। फरवरी में रेन ने कहा था कि 2019 में कंपनी की टारगेट 125 अरब डॉलर आमदनी का है।


रेन ने कहा कि Huawei की ओवरसीज सेल्स 40 फीसदी तक गिर गई है। लेकिन चाइनीज मार्केट तेजी से बढ़ रहा है। लिहाजा Huawei रिसर्च पर कोई पाबंदी नहीं लगाएगी।


चीन और अमेरिका के बीच ट्रेड वॉर में Huawei की मुश्किलें बढ़ गई हैं। अमेरिका ने कंपनी पर आरोप लगाया है कि वह ट्रेड सीक्रेट्स चुरा रही है। पिछले महीने अमेरिका ने Huawei को एंटिटी लिस्ट में डाल दिया था। इसका नतीजा हुआ कि Huawei के साथ कोई भी अमेरिकी कंपनी बिना सरकारी अनुमति के कारोबार नहीं कर सकती है।


दिसंबर में Huawei की फाइनेंशियल ऑफिसर मेंग वानजोऊ को अमेरिकी अथॉरिटीज के कहने पर वैंकुवर से गिरफ्तार कर लिया गया था। मेंग, रेन की बेटी हैं। अमेरिका का आरोप था कि मेंग अमेरिकी बैंकों को Huawei के ईरान के साथ कारोबार के मामले में गुमराह कर रही हैं। अमेरिका का यह भी आरोप है कि  Huawei हांगकांग की शेल कंपनी के जरिए ईरान को इक्विपमेंट बेच रही है, जो अमेरिकी पाबंदी का उल्लंघन है।