Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

RBI के डिप्टी गवर्नर पोस्ट की रेस में IAS क्षत्रपति शिवाजी सबसे आगे

IAS क्षत्रपति शिवाजी दिसंबर 2016 से Asian Development Bank के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर के रूप में काम कर रहे हैं।
अपडेटेड Sep 30, 2019 पर 14:13  |  स्रोत : Moneycontrol.com

CNBC-TV18 की खबर के मुताबिक, भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी क्षत्रपति शिवाजी को भारतीय रिवर्ज बैंक का डिप्टी गवर्नर बनाया जा सकता है।


शिवाजी दिसंबर 2016 से Asian Development Bank के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर के रूप में काम कर रहे हैं। उन्होंने इससे पहले Sidbi के CEO और फाइनेंस मिनिस्ट्री के प्रिंसपल सेक्रेटरी के तौर पर काम कर चुके हैं।


शिवाजी विरल आचार्य की जगह लेंगे। आचार्य ने निजी कारणों का हवाला देकर डिप्टी गवर्नर की पोस्ट से जून में इस्तीफा दे दिए थे। RBI ने कहा था कि कुछ हफ्ते पहले विरल आचार्य ने अपने पोस्ट से इस्तीफा दे दिया है। अब उन्होंने 23 जुलाई 2019 से आगे RBI के डिप्टी गवर्नर के तौर काम करने में असमर्थता जताई है।   


आपको बता दें कि डिप्टी गवर्नर विरल आचार्य ने अपना कार्यकाल पूरा होने के करीब छह महीने पहले ही अपनी पोस्ट छोड़ दी थी। विरल आचार्य RBI के उन बड़े अधिकारियों में शामिल थे जिन्‍हें उर्जित पटेल की टीम का हिस्‍सा माना जाता था। आचार्य ने तीन साल के लिए RBI में बतौर डिप्‍टी गवर्नर 23 जनवरी 2017 को ज्‍वाइन किए थे।


विरल आचार्य फाइनेंशियल स्टेबिलिटी यूनिट, मॉनेटरी पॉलिसी डिपार्टमेंट, डिपार्टमेंट ऑफ इकोनॉमिक एंड पॉलिसी रिसर्च, फाइनेंशियल मार्केट ऑपरेशन डिपार्टमेंट और फाइनेंशियल मार्केट रेग्युलेशन डिपार्टमेंट के इन्चार्ज रहे थे।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।