Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

बजट में ऐलान से फायदा, इन 5 शेयरों से होगा बंपर मुनाफा

प्रकाशित Thu, 11, 2019 पर 11:32  |  स्रोत : Moneycontrol.com

बजट में फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण ने कुछ ऐसे ऐलान किए थे जिससे अर्थव्यवस्था में तेजी आएगी। बजट में हुए ऐलान के बाद एकबार मिडकैप स्टॉक्स पर फिर फोकस बढ़ गया है।


2019 में अभी तक मिडकैप शेयरों का रिटर्न लार्जकैप शेयरों के मुकाबले कम रहा है। जानकारों का कहना है कि इंफ्रास्ट्रक्चर पर सरकार के फोकस से इस सेक्टर से जुड़ी कंपनियों के शेयरों का प्रदर्शन बेहतर होगा। 


हालांकि मौजूदा दौर पर कुछ शेयरों के अट्रैक्टिव वैल्यूएशन होने के बावजूद क्वालिटी शेयर चुनना ज्यादा जरूरी है। ऐसे में निवेशकों को वैल्यू ट्रैप से बचना चाहिए। कुछ कंपनियों के शेयरों में इसलिए गिरावट आई है क्योंकि उनमें कोई फ्रॉड हुआ है या कोई बुनियादी गड़बड़ी है।


5nance.com के CEO और को-फाउंडर दिनेश रोहिरा ने मनीकंट्रोल को बताया कि किसी भी कंपनी में निवेश करने से पहले कंपनी के बहीखातों की जांच करना जरूरी है। निवेशकों को उन कंपनियों में निवेश करना चाहिए जिनमें भले ही शॉर्ट टर्म में गिरावट हो लेकिन बुनियादी कोई गड़बड़ी ना हो। रोहिरा ने कहा कि ऐसे में Dilip Buildcon और Dabur India जैसी कंपनियों के शेयरों में निवेश कर सकते हैं जो आने वाले दिनों में बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं।


Narnolia Financial Advisors के हेड ऑफ रिसर्च विनीता शर्मा के मुताबिक इन शेयरों से आने वाले दिनों में अच्छा मुनाफा मिल सकता है।


LIC Housing Finance


सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के तहत मार्च 2020 तक के होम लोन के ब्याज पर 1.50 रुपए के अतिरिक्त टैक्स छूट का ऐलान किया है। LIC Housing Finance इस मौके का सही फायदा उठा सकती है।


SBI Life Insurance


इंश्योरेंस का दायरा बढ़ाने पर भी सरकार का फोकस है, जिसका फायदा SBI Life Insurance को हो सकता है। अपने मजबूत डिस्ट्रीब्यूशन फ्रेंचाइजी के जरिए कंपनी अपना मार्केट शेयर तेजी से बढ़ा रही है।


karvy Stock Broking की सलाह


Apollo Tyres


ट्रक और बस सेगमेंट में रैडियल टायर की पैठ 40-45 फीसदी है। उम्मीद है कि अगले दो साल में यह बढ़कर 70-75 फीसदी हो सकता है। Apollo Tyres इस सेगमेंट की मजबूत कंपनी है और इसे फायदा हो सकात है।
कंपनी की एक मुश्किल थाइलैंड से मांग में कमी है। हालांकि उम्मीद है कि डिमांड में तेजी आएगी और कंपनी उसका फायदा उठा पाएगी।


Sobha


कार्वी स्टॉक ब्रोकिंग का मानना है कि रियल एस्टेट मार्केट रेगुलेटर RERA की वजह से Sobha को काफी फायदा होगा। RERA की वजह से रियल एस्टेट मार्केट में कंसॉलिडेशन होगा जिसका फायदा कंपनी को होगा। कार्वी ने Sobha के लिए टारगेट प्राइस 632 रुपए तय किया है।


Subros


कार के लिए AC बनाने वाली यह देश की सबसे बड़ी कंपनी है। कंपनी का बिजनेस मॉडल काफी अच्छा है। इसकी प्रोडक्ट टेक्नोलॉजी पार्टनर Denso और सबसे बड़ी कस्टमर मारुती की इसमें हिस्सेदारी है।


इंडियन कार AC मार्केट में Subros की हिस्सेदारी 42 फीसदी है। लिहाजा अगर देश में कार की डिमांड बढ़ती है तो उसे इसका फायदा जरूर होगा।


(निवेश के विचार एक्सपर्ट्स के हैं)