Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

IIP की ग्रोथ अगस्त में घटकर 1.1 फीसदी, फरवरी 2013 के बाद सबसे सुस्त ग्रोथ

इस साल जून में IIP की ग्रोथ 1.2 फीसदी और मई में 4.6 फीसदी थी
अपडेटेड Oct 13, 2019 पर 09:52  |  स्रोत : Moneycontrol.com

इंडिया का इंडस्ट्रियल प्रोडक्शन ग्रोथ (IIP) अगस्त में घटकर 1.1 फीसदी पर आ गई। इससे पहले जुलाई में IIP की ग्रोथ 4.3 फीसदी थी। शुक्रवार को जारी सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, सबसे खराब प्रदर्शन मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर का रहा है। इस साल जून में IIP की ग्रोथ 1.2 फीसदी और मई में 4.6 फीसदी थी। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, फरवरी 2013 के बाद IIP की ग्रोथ सबसे सुस्त हो गई है।


इंडस्ट्रीज के हिसाब से देखें तो पिछले साल की इसी अवधि के मुकाबले 23 इंडस्ट्री के ग्रुप में से 15 सेक्टर की ग्रोथ अगस्त 2019 में नेगेटिव रही।


अगस्त में मैन्युफैक्चरिंग आउटपुट में 1.2 फीसदी की कमी रही। जुलाई 2019 में यह 5.2 फीसदी थी। IIP ग्रोथ में मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर की हिस्सेदारी 75 फीसदी है।


इलेक्ट्रिसिटी जेनरेशन में 0.9 फीसदी की कमी रही जिसकी ग्रोथ एक साल पहले इसी महीने में 7.6 फीसदी थी। वहीं माइनिंग सेक्टर की ग्रोथ फ्लैट 0.1 फीसदी रही।


अप्रैल 2019 से अगस्त 2019 के बीच कुल IIP की ग्रोथ 2.4 फीसदी रही। पिछले फिस्कल ईयर की इस अवधि में यह 5.3 फीसदी थी।



सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।