Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

'अग्रवाल-वैश्य कैंडिडेट्स चाहिए': IRCTC कॉन्ट्रैक्टर के ऐड पर मचा हंगामा, जानिए क्या है पूरा मामला

IRCTC के एक प्राइवेट केटरिंग कॉन्ट्रैक्टर ने अखबारों में एक ऐसा ऐड निकाला, जिसकी वजह से उसे माफी मांगनी पड़ी
अपडेटेड Nov 08, 2019 पर 12:46  |  स्रोत : Moneycontrol.com

Indian Rail Catering and Tourism Corporation (IRCTC) को एक विज्ञापन की वजह से शर्मिंदा होना पड़ा है। IRCTC के एक प्राइवेट केटरिंग कॉन्ट्रैक्टर ने अखबारों में एक ऐसा ऐड निकाला, जिसकी वजह से उसे अपने एचआर मैनेजर को निकालना पड़ा और माफी भी मांगनी पड़ी।


दरअसल, IRCTC के एक प्राइवेट केटरिंग कॉन्ट्रैक्टर Brandavan Food Products जो RK Meals के नाम से भी जाना जाता है, ने 6 नवंबर को एक अंग्रेजी अखबार में एक ऐड दिया था, जिसमें 100 पुरुष उम्मीदवारों की मांग थी, जो अग्रवाल या वैश्य समुदाय से आते हों। इसमें यह शर्त भी रखी गई थी कि कैंडिडेट्स का फैमिली बैकग्राउंड भी अच्छा होना चाहिए। यह रिक्रूटमेंट ड्राइव रेलवे फूड प्लाजा, ट्रेन केटरिंग, बेस किचन और स्टोर मैनेजर के लिए भर्तियां की जानी थीं।


यह केटरिंग बिजनेस दिल्ली के ओखला एरिया में है और यह लगभग 100 ट्रेनों में केटरिंग का काम देखता है। जब कंपनी के ऐड पर लोगों की नजर पड़ी तो सोशल मीडिया पर लोगों ने इसकी आलोचना शुरू करनी शुरू कर दी, जिसके चलते IRCTC को बीच में आना पड़ा।


IRCTC ने बताया कि इस कॉन्ट्रैक्टर को आगे से ऐसा कोई भी विज्ञापन देने से मना किया गया है, जो जाति, धर्म या नस्ल के आधार पर भेदभाव करता हो। वहीं रेलवे मंत्रालय के एक अधिकारी ने यह भी बताया कि कॉन्ट्रैक्टर ने अपने एचआर को निकाल दिया है, जिसने यह एडवर्टीजमेंट दिया था।


कॉन्ट्रैक्टर की ओर से सफाई दी गई है। RK Meals ने एक बयान जारी कर बताया कि उनकी ओर से दो ऐड पब्लिश कराए जाने थे, एक ट्रेन में स्टाफ के लिए दूसरा उनके सोशल वेलफेयर फंक्शन के लिए। लेकिन गलती से फंक्शन वाला ऐड अखबारों में छप गया। कंपनी ने इस गलती के लिए माफी मांगी है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।