Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

Tokyo Olympic: भारत को लगा बड़ा झटका, डिस्कस थ्रो में कमलप्रीत कौर इतिहास रचने से चूकीं

कमलप्रीत कौर फाइनल में छठे स्थान पर रही हैं और उनका सर्वश्रेष्ठ थ्रो 63.70 मीटर का रहा
अपडेटेड Aug 02, 2021 पर 23:03  |  स्रोत : Moneycontrol.com

टोक्यो ओलंपिक के 10वें दिन भारत को डिस्कस थ्रो (Discus Throw) में निराशा मिली है। भारतीय महिला डिस्कस थ्रो (चक्का फेंक) एथलीट कमलप्रीत कौर (Discus Thrower Kamalpreet Kaur) सोमवार को इतिहास रचने से चूक गईं। कमलप्रीत कौर फाइनल में 63.70 मीटर का सर्वश्रेष्ठ थ्रो लगाकर छठे स्थान पर रही। शनिवार को क्वालीफाइंग दौर में दूसरे स्थान पर रही कमलप्रीत आठ दौर के फाइनल में कभी भी पदक की दौड़ में नहीं रही।

फाइनल में अमेरिका की वालारी आलमैन (Valarie Allman) ने बाजी मारी, जिन्होंने अपने पहले ही प्रयास में 68.98 दूर चक्का फेंका। इस तरह एथलेटिक्स में ओलंपिक पदक जीतने का भारत का सपना एक बार फिर टूट गया। बारिश के कारण मुकाबला एक घंटे तक बाधित रहा।


इससे पहले 2010 राष्ट्रमंडल खेलों की स्वर्ण पदक विजेता कृष्णा पूनिया भी लंदन ओलंपिक 2012 में छठे स्थान पर रही थी। अपने निजी कोच के बिना आई कमलप्रीत पूरे फाइनल में नर्वस नजर आई। अभी तक वह एकमात्र अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट विश्व यूनिवर्सिटी खेल 2017 में भाग ले पाई हैं और उनमें आत्मविश्वास का अभाव दिख रहा था।


क्या अनु मलिक ने इजरायली राष्ट्रगान से चुराई थी 'मेरा मुल्क, मेरा देश...' गाने की धुन? Twitter पर हुए ट्रोल


पंजाब के काबरवाला गांव के एक किसान की बेटी कमलप्रीत ने शनिवार को 64 मीटर का थ्रो लगाकर पदक की उम्मीद जगाई थी। अमेरिका की वालारी आलमैन 68.98 मीटर के थ्रो के साथ स्वर्ण, जर्मनी की क्रिस्टीन पुडेंज को रजत और मौजूदा विश्व चैम्पियन क्यूबा की येमे पेरेज को कांस्य पदक मिला। दो बार की गत चैम्पियन क्रोएशिया की सैंड्रा पेरकोविच चौथे स्थान पर रही।


आपको बता दें कि टोक्यो ओलंपिक में भारत की झोली में दो मेडल आ चुके हैं। मीराबाई चानू ने वेटलिफ्टिंग के 49 किलो भारवर्ग में रजत पदक जीतकर टोक्यो में भारत के पदकों का खाता खोला था। वहीं, शटलर पीवी सिंधु ने रविवार को इतिहास रचते हुए चीनी खिलाड़ी को हराकर देश को कांस्य पदक दिलाया। जबकि बॉक्सर लवलीना बोरगोहेन ने 69 किलो वेल्टरवेट कैटेगरी के सेमीफाइनल में पहुंचकर भारत के लिए मेडल पक्का कर चुकी हैं।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें.