Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

मौसम विभाग के खिलाफ IPC 420 के तहत केस क्यों दर्ज कराना चाहते हैं महाराष्ट्र के किसान?

तंगहाल किसान मौसम विभाग के खिलाफ IPC की धारा 420 (धोखाधड़ी) के तहत मामला दर्ज कराना चाहते हैं
अपडेटेड Aug 09, 2019 पर 10:43  |  स्रोत : Moneycontrol.com

महाराष्ट्र में एक और मुंबई पानी-पानी है, वहीं लातूर जैसे इलाकों के किसान सूखे की समस्या से सबसे ज्यादा परेशान हैं। बारिश की आस में मौसम विभाग के अनुमानों की ओर देख रहे किसानों को न बारिश मिल रही है, न ही मौसम विभाग से सही प्रिडिक्शन।


ऐसे में तंगहाल किसान मौसम विभाग के खिलाफ इंडियन पीनल कोड (IPC) की धारा 420 (धोखाधड़ी) के तहत मामला दर्ज कराना चाहते हैं।


DNA की खबर के मुताबिक, लातूर के भीसे वघोली गांव के सत्तार पटेल और उनके साथ दूसरे कुछ किसान 5 अगस्त को लोकल पुलिस स्टेशन में मौसम विभाग के खिलाफ केस दर्ज कराने पहुंचे थे।


मौसम विभाग ने 5 अगस्त को इलाके में भारी बारिश का अनुमान जताया था लेकिन वहां औसत बारिश भी नहीं हुई। ऐसे में मॉनसून की बारिश पर निर्भर रहने और अपने फसल की कटाई-बुआई का फैसला लेते हैं। अनुमान गलत जाने पर उनकी फसल पर असर पड़ता है।


पटेल ने भी मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक, अपनी फसल बोने की योजना बनाई थी लेकिन गलत अनुमान होने की वजह से उनकी योजना खराब हुई। उन्होंने बताया कि विभाग ने इस सीजन में 97 फीसदी बारिश का अनुमान जताया था, ऐसे में सभी किसानों ने पहली बारिश में ही बीज बो दिए लेकिन अभी तक बारिश नहीं हुई है। पूरी जमीन सूखी पड़ी है। अगर विभाग ने गलत अनुमान नहीं दिया होता तो हम इतनी जल्दी बीज नहीं बोते।


सत्तार पटेल ने अपनी 10 एकड़ जमीन में सोयाबीन बोया था लेकिन सीजन की शुरुआत में बस थोड़ी सी बारिश ही हुई, बाकी सूखा ही रहा। इसके बाद उन्होंने अपनी जमीन एक बार फिर जोत दी लेकिन उनकी कोई पैदावार नहीं हुई।