Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

RBI के रेट कट ना करने को क्यों 'दुर्भाग्यपूर्ण' बता रहे हैं मार्क मोबियस

जाने-माने ग्लोबल निवेशक मार्क मोबियस ने कहा कि महंगाई का मुद्दा शॉर्ट टर्म है लिहाजा RBI को ग्रोथ पर फोकस करना चाहिए
अपडेटेड Dec 07, 2019 पर 13:42  |  स्रोत : Moneycontrol.com

मोबियस कैपिटल पार्टनर्स (MobiuS Capital Partners) के फाउंडर मार्क मोबियस (Mark Mobius) ने कहा कि वह भारत को लेकर अभी भी पॉजिटिव हैं। उन्होंने कहा कि RBI का रेट कट ना करना गलत है।


उन्होंने कहा कि इनफ्लेशन से जुड़ी चिंताओं को लेकर कुछ ज्यादा ही हौवा बनाया गया है। उन्होंने कहा, "मेरा मानना है कि RBI को रेट कट करना चाहिए क्योंकि भारतीय बाजार को फिलहाल रेट कट की जरूरत है। उम्मीद है कि यह अस्थायी मामला है। जैसे हम आगे बढ़ेंगे हम रेट कट देख सकते हैं क्योंकि भारतीय अर्थव्यवस्था को रेट कट की सख्त जरूरत है।" उन्होंने उम्मीद जताई कि आगे RBI रेट कट करेगा।


RBI के रेट कट ना करने के फैसले पर मोबियस ने कहा, "मैं महंगाई को लेकर RBI की चिंता समझता हूं लेकिन यह शॉर्ट टर्म दिक्कत है। असली चिंता इकोनॉमी की ग्रोथ को लेकर है। एक बार इकोनॉमी की ग्रोथ बढ़ जाए तो महंगाई का मसला भी हल किया जा सकता है।" उन्होंने कहा कि कमोडिटी की कीमतों में उतारचढ़ाव शॉर्ट टर्म समस्या है।


शेयर बाजार के बारे में उन्होंने कहा कि बाजार अगले साल और आगे बढ़ेगा और यह दुनिया भर के देशों के लिए सही है।


CNBC-TV18 को दिए एक इंटरव्यू में मोबियस ने कहा, "मेरा मानना है कि ज्यादातर निवेशकों का मानना है कि भारत की अर्थव्यवस्था अगले साल बेहतर होगी और ग्रोथ जारी रहेगी। भारत के साथ यह समस्या अस्थायी है और आगे आने वाले साल में तेजी रहेगी।"


मोबियस के मुताबिक, भारत सरकार को तेजी से निजीकरण की तरफ बढ़ना चाहिए ताकि बाजार में पूंजीकरण बढ़ सके।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।