Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

Moody's ने भारत का 2020 GDP ग्रोथ अनुमान घटाया, 6.6 से घटाकर 5.4% किया

एजेंसी ने कहा कि coronavirus outbreak के चलते ग्लोबल इकोनॉमी प्रभावित हुई है, इसका असर भारतीय अर्थव्यवस्था पर भी दिखेगा
अपडेटेड Feb 18, 2020 पर 09:52  |  स्रोत : Moneycontrol.com

रेटिंग एजेंसी Moodys Investors Service ने सोमवार को 2020 के लिए भारत के ग्रोथ अनुमान में कटौती की है। एजेंसी ने साल 2020 के लिए भारत का GDP (gross domestic product) ग्रोथ फोरकास्ट घटाकर 5.4 फीसदी पर कर दिया है, जो पहले 6.6 फीसदी पर था। एजेंसी ने 2021 के GDP ग्रोथ को भी घटाया है। पहले इसका अनुमान 6.7% था जो अब 5.8% कर दिया गया है। रेटिंग में कटौती देश की इकोनॉमी की स्लो रिकवरी के चलते किया गया है।


अपने Global Macro Outlook के अपडेट में एजेंसी ने कहा कि coronavirus outbreak के चलते ग्लोबल इकोनॉमी प्रभावित हुई है, इसका असर भारतीय अर्थव्यवस्था पर भी दिखेगा। एजेंसी ने कहा कि रिकवरी अनुमान से धीमी रहेगी। एजेंसी ने कहा भारत की इकोनॉमी पिछले दो सालों में सुस्त हुई है, हम इस तिमाही से इसमें रिकवरी आने की उम्मीद कर रहे हैं। हमारा अनुमान है कि कोई भी रिकवरी उम्मीद से कम ही रहेगी।


एजेंसी ने कहा- हमने भारत के लिए जीडीपी ग्रोथ फोरकास्ट 6.6 से 5.4 फीसदी पर और 2021 के लिए ग्रोथ फोरकास्ट 6.7 से घटाकर 5.8 फीसदी कर दिया है।


एजेंसी ने अनुमान लगाया है कि G-20 देशों की अर्थव्यवस्था 2020 में कलेक्टिव तौर पर 2.4 पर्सेंट के सालाना दर से बढ़ेगी। एजेंसी ने 2020 के लिए चीन की GDP ग्रोथ 5.2 और 2021 के लिए 5.7 फीसदी रहने का अनुमान लगाया है।


उधर, CNBC-TV18 की खबर के मुताबिक, कोरोनावायरस इंपैक्ट को देखते हुए Moodys के कॉरपोरेट फाइनेंस ग्रुप के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट विकास हलान ने कहा है कि इससे क्रूड मार्केट पर बड़ा असर पड़ा है। उन्होंने बताया कि OPEC अपने प्रोडक्शन कोटा में थोड़ी कमी कर सकता है। अगर कोरोनावायरस को लेकर स्थिति थोड़ी संभल जाती है तो OPEC को बड़ी कटौती नहीं करनी पड़ेगी।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।