Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

Nifty500 के इन सबसे सस्ते शेयरों में क्या आपको निवेश करना चाहिए?

सरकार ने अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए कई कदम उठाए हैं जो सकारात्मक है
अपडेटेड Sep 08, 2019 पर 09:34  |  स्रोत : Moneycontrol.com

निफ्टी अपने रिकॉर्ड हाई 12,103 से 10 फीसदी से ज्यादा गिर चुका है। 3 जून 2019 को निफ्टी ने अपना ऑल टाइम हाई बनाया था। निफ्टी के गिरने के बावजूद Nifty500 index के 20 ऐसे शेयर हैं जो 50 फीसदी से भी ज्यादा डिस्काउंट पर मिल रहे हैं।


Nifty500 index के इन शेयरों में RBL Bank, PC Jeweller, YES Bank, Coffee Day, Reliance Capital, Jet Airways, Reliance Home Finance और Cox & Kings जैसे कई दूसरे शेयर हैं। 3 जून के बाद से इन शेयरों में 50-90 फीसदी की गिरावट आ चुकी है।


हालांकि इसमें ध्यान देने वाली एक बात यह है कि जिन शेयरों में गिरावट आई है उनमें से ज्यादातर गिरावट की वजह स्ट्रक्चरल और फंडमेंटल से जुड़ा है। कुछ कंपनियों की शेयर क्वालिटी और वैल्यूएशन खरीदने लायक नहीं है। लिहाजा इनमें पैसा लगाना गिरते चाकू को पकड़ने जैसा है।


Emkay Wealth Management के हेड ऑफ रिसर्च डॉक्टर जोसेफ थॉमस ने मनीकंट्रोल को बताया कि आप गिरते चाकू को पकड़ सकते हैं बशर्ते आपको यह अच्छी तरह पता हो कि चाकू दोनों तरफ से धारदार नहीं है। अगर आप चाकू को उस तरफ से पकड़े जिधर धार नहीं है तो आप इन शेयरों से मुनाफा कमा सकते हैं।


थॉमस ने कहा, ऐसे समय में जब बाजार हर दिन गिर रहा है तब शेयरों को चुनने में काफी सावधानी की जरूरत है।


जून के बाद बाजार अपना अहम सपोर्ट लेवल होल्ड नहीं कर पाया है। सरकार के हालिया फैसलों से उम्मीद थी कि निवेशकों का सेंटीमेंट सुधरेगा लेकिन उसका भी बहुत ज्यादा असर देखने को नहीं मिला है।


निवेशकों को क्या करना चाहिए?


जून 2019 तिमाही में देश की GDP की ग्रोथ घटकर 5 फीसदी रह गई। यह पिछले 6 साल का सबसे निचला स्तर है। लेकिन ऐसी हालत सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि ज्यादातर डेवलप्ड देशों की अर्थव्यवस्था की रफ्तार धीमी है। लिहाजा इस हिसाब से इंडियन मार्केट निवेश के लिए बेहतर है।


भारत की GDP की ग्रोथ पिछले साल के 8 फीसदी से घटकर 5 फीसदी पर आ गया है। हालांकि अभी भी इसकी ग्रोथ बाकी देशों के मुकाबले ज्यादा है। इसके साथ ही सरकार ने अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए कई कदम उठाए हैं जो सकारात्मक है। निवेशकों को कंपनी का वैल्यूएशन देखने के साथ कर्ज का लेवल और ग्रोथ की संभावनाओं पर भी गौर करके निवेश करना चाहिए। 


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।