Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

जनवरी 2020 से NEFT से फंड ट्रांसफर करने पर नहीं लगेगा चार्ज

RBI के कहने पर बैंक जनवरी 2020 से NEFT ट्रांजैक्शन पर कोई शुल्क नहीं लेंगे
अपडेटेड Nov 09, 2019 पर 14:22  |  स्रोत : Moneycontrol.com

डिजिटल ट्रांजैक्शन को बढ़ावा देने के लिए RBI ने बैंकों से कहा है कि वह सेविंग्स बैंक अकाउंट वाले कस्टमर्स से NEFT (National Electronic Funds Transfer) के जरिए ट्रांजैक्शन पर कोई शुल्क ना ले। RBI के कहने पर बैंक जनवरी 2020 से NEFT ट्रांजैक्शन पर कोई शुल्क नहीं लेंगे।


इंटरबैंक ट्रांसफर RTGS और NEFT के जरिए किया जा सकता है। ये दोनों सिस्टम RBI मेंटेन करता है। RBI ने अपने बयान में कहा है, "रिजर्व बैंक एक आधुनिक पेमेंट सिस्टम्स शुरू किया है जो प्रभावी, सुविधाजनक, सुरक्षित और अफोर्डेबल हो। इससे डिजिटल ट्राजैक्शन में तेजी आई है।"


अक्टूबर 2018 से लेकर सितंबर 2019 के बीच कुल गैर-कैश रिटेल में डिजिटल पेमेंट्स की हिस्सेदारी 96 फीसदी थी। इस दौरान NEFT के जरिए 252 करोड़ रुपए और UPI (Unified Payments Interfac) के जरिए 874 करोड़ रुपए का लेनदेन हुआ। साल दर साल के आधार पर NEFT की ग्रोथ 20 फीसदी और UPI की ग्रोथ 263 फीसदी रही। 


फिलहाल NEFT 30 मिनट के बैच में सुबह 8 बजे से शाम 7 बजे तक होता है। एक वर्किंग डेट में NEFT के 23 सेटलमेंट होते हैं।


देश के सबसे बड़े बैंक SBI ने पहले फैसला किया था कि वह RTGS और NEFT के जरिए ट्रांजैक्शन पर कोई शुल्क नहीं लेगा।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।