Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

खाने पर जमकर पैसे खर्च रहे हैं भारतीय, महीने में 7 बार खाते हैं बाहर

प्रकाशित Mon, 13, 2019 पर 15:43  |  स्रोत : Moneycontrol.com

पिछले कुछ सालों में भारतीयों की खर्च करने की क्षमता बढ़ी है। इसका सबसे बड़ा असर खाने के मार्केट पर पड़ा है। पिछले कुछ वक्त में भारतीयों के अंदर बाहर खाने की प्रवृत्ति बढ़ी है। नेशनल रेस्टोरेंट असोसिएशन ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट में सामने आया है कि कस्टमर्स एक महीने में अधिकतम सात बार बाहर का खाना खाते हैं। वहीं भारतीयों में ऑनलाइन खाना मंगाने की आदत भी बढ़ी है।


एनआरएआई ने भारत के 24 शहरों के 130 रेस्टोरेंट्स के सीईओ और 3500 कंज्यूमर्स को साथ लेकर भारतीयों के खाने-पीने के बदलते ट्रेंड पर एक सर्वे किया है, जिसमें सामने आया है कि 44 फीसदी भारतीय महीने में लगभग दो से तीन बार बाहर खाना खाने जाते हैं। वहीं 27 फीसदी भारतीय हर हफ्ते बाहर खाना खाते हैं। ऑनलाइन खाना ऑर्डर करने वालों की संख्या भी तेजी से बढ़ी है। स्विगी, ज़ोमेटो और फूड पांडा जैसे प्लेटफॉर्म की वजह से भी लोगों में इस चलन का क्रेज बढ़ा है। इस रिपोर्ट में ये भी सामने आया है कि तीन प्रतिशत भारतीय ऐसे भी हैं, जो रोज बाहर खाना खाते हैं।


इकोनॉमी बदलने के साथ लोगों के पास अब खर्च करने के लिए पैसे हैं। बड़ी संख्या में भारतीय हर महीने बाहर खाना खाने के लिए औसतन 2500 रुपए खर्च कर रहे हैं।


10 मई को रिलीज किए गए इस रिपोर्ट में सामने आया है कि देश के रेस्टोरेंट इंडस्ट्री के सबसे बड़े ग्राहक हैं बड़े शहरों के युवा, वो भी तनाव झेल रहे युवा। 26 से 35 साल के युवा, जो भागमदौड़ की जिंदगी जी रहे हैं, उनमें अधिकतर फ्रीक्वेंटली बाहर खाना खाते हैं। ऐसे युवा बाहर खाना खाने के लिए हर महीने लगभग 2,746 रुपए खर्च करते हैं।