Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

अगले दो हफ्तों में 50% तक सस्ता हो सकता है प्याज

प्याज की नई फसल बाजार में आने से कीमतें कम हो सकती हैं
अपडेटेड Dec 12, 2019 पर 09:03  |  स्रोत : Moneycontrol.com

मुमकिन है कि अगले दो हफ्ते में प्याज की कीमतों में नरमी आ सकती है। महाराष्ट्र, गुजरात और कर्नाटक से प्याज की पैदावार आने वाली है। यह आने के बाद प्याज की कीमतों में बड़ी कमी होने की उम्मीद है।


बिजनेस स्टैंडर्ड की एक रिपोर्ट के मुताबिक, लाल प्याज की सप्लाई में काफी इजाफा होने वाला है। प्याज के सबसे बड़े थोक मार्केट लासलगांव में 10 दिसंबर को प्याज 41 रुपए किलो बिक रहा है। जबकि 7 दिसंबर को इसका भाव 71 रुपए किलो था। प्याज की नई खेप आने से प्याज की कीमतों में नरमी शुरू हुई है।


लासलगांव के एग्रीकल्चर प्रोड्यूस मार्केट कमिटी (APMC) के चेयरमैन सुवर्ण जगताप ने कहा, "जनवरी तक प्याज की कीमते 20 से 25 रुपए किलो तक आ सकती है। कीमतों में धीरे-धीरे कमी आएगी। अगले दो हफ्तों में प्याज का दाम घटकर 30-35 रुपए किलो हो सकता है।"


मनीकंट्रोल स्वतंत्र तौर पर इस खबर की पुष्टि नहीं करता है। 10 दिसंबर को 704 टन प्याज की सप्लाई हुई है जबकि दो दिनों पहले सिर्फ 421 टन प्याज की सप्लाई हुई थी। बाढ़ और गोदामों में प्याज सड़ने की वजह से इसकी सप्लाई कम हुई है और दाम बढ़ गए हैं।


2018 में इसी महीने में लासलगांव में हर दिन 2500 टन प्याज आ रहे थे जो आज के मुकाबले बहुत ज्यादा थे। बिजनेस डेली के मुताबिक, बहुत ज्यादा बारिश होने और मॉनसून लंबा खींचने से 30 फीसदी प्याज की पैदावार बर्बाद हो गई।


APMC के सेक्रेटरी नरेंद्र वाधवन ने कहा, "इसका मतलब है कि प्याज की सप्लाई इस साल भी कम रहेगी। इसलिए प्याज के भाव गिरकर पिछले साल के लेवल पर नहीं आ पाएंगे।"


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।