Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

Kartarpur Corridor: उद्घाटन और गुरु नानक के जन्मदिवस पर श्रद्धालुओं को नहीं देनी होगी कोई फीस

पाकिस्तान सरकार ने इस खास मौके के लिए नियमों में दो बड़ी छूट भी दी है
अपडेटेड Nov 01, 2019 पर 15:43  |  स्रोत : Moneycontrol.com

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को घोषणा की है कि गुरुनानक देव के 550वें जन्मदिवस और करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन वाले दिन भारत से पाकिस्तान जाने वाले सिख श्रद्धालुओं को कोई फीस नहीं देनी होगी। इसके अलावा उन्होंने इस खास मौके के लिए नियमों में दो बड़ी छूट भी दी है।


इमरान खान ने शुक्रवार को ट्विटर पर एक ट्वीट कर जानकारी दी कि भारत से तीर्थ के लिए करतारपुर आ रहे सिख श्रद्धालुओं को गुरुनानक देव के 550वें जन्मदिवस और करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन वाले दिन पर कोई फीस नहीं देनी होगी।


इस ट्वीट में उन्होंने यह भी कहा कि सिख श्रद्धालुओं को दो और छूट मिलेंगी। उन्हें विजिट पर आने के लिए पासपोर्ट की जरूरत नहीं होगी, इसके बजाय वो वैध पहचान पत्र दिखाकर भी पाकिस्तान में प्रवेश कर सकेंगे। इसके अलावा उन्हें तीर्थयात्रा के लिए एडवांस में 10 दिनों के लिए रजिस्टर नहीं कराना होगा।


बता दें कि भारत-पाकिस्तान ने पिछले हफ्ते ही करतारपुर कॉरिडोर समझौते पर हस्ताक्षर किए थे। इसके तहत भारतीय श्रद्धालुओं को सिख धर्म के संस्थापक गुरुनानक देव के पाकिस्तान में पवित्र समाधि स्थल गुरुद्वारा दरबार साहिब के लिए वीज़ा-फ्री विजिट करने की छूट मिलेगी। इसके तहत 5,000 भारतीय श्रद्धालु रोज इस तीर्थ की यात्रा कर सकेंगे।


यह कॉरिडोर करतारपुर के दरबार साहिब को भारत में पंजाब के डेरा बाबा नानक समाधि स्थल से जोड़ेगा। इस कॉरिडोर से किसी भी धर्म का भारतीय श्रद्धालु इस्तेमाल कर सकेगा। पाकिस्तान ने हर श्रद्धालु पर 20 डॉलर की फीस लगाई है, जिसे भारत ने हटाने का आग्रह किया है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।