Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

कुलभूषण जाधव के लिए अपने Army Act में बदलाव कर रहा है पाकिस्तान, जा सकेंगे सिविलयन कोर्ट

ICJ ने कहा था कि पाकिस्तान को कुलभूषण जाधव को सिविलियन कोर्ट में अपील करने का मौका देना चाहिए
अपडेटेड Nov 14, 2019 पर 09:29  |  स्रोत : Moneycontrol.com

पाकिस्तान आखिरकार International Court of Justice (ICJ) के निर्देश के तहत चलते हुए कुलभूषण जाधव के लिए अपने आर्मी एक्ट में बदलाव कर रहा है। पाकिस्तान ने जाधव को आर्मी एक्ट के तहत आरोपी बनाकर मौत की सजा सुनाई थी। ICJ तक पहुंचे इस मामले में पाकिस्तान को हार का सामना करना पड़ा था। इंटरनेशनल कोर्ट ने कहा था कि पाकिस्तान को कुलभूषण जाधव को सिविलियन कोर्ट में अपील करने का मौका देना चाहिए।


न्यूज एजेंसी ANI ने पाकिस्तानी मीडिया के हवाले से बुधवार को कहा है कि पाकिस्तान सरकार इस एक्ट में स्पेशल अमेंडमेंट कर रही है। हालिया कानून के मुताबिक, कोई भी शख्य या संगठन, जिसका ट्रायल मिलिट्री कोर्ट में होगा, उसके पास सिविलियन कोर्ट में केस फाइल करने का अधिकार नहीं होगा।


बता दें कि कुलभूषण जाधव इंडियन नेवी के रिटायर्ड कमांडर हैं। भारतीय जांच एजेंसियों का कहना है कि उन्हें ईरान से अगवा करके पाकिस्ताना ले जाया गया, वहीं पाकिस्तान दावा करता रहा है कि उसने उन्हें बलोचिस्तान से गिरफ्तार किया था। पाकिस्तान ने भारत को जाधव की गिरफ्तारी की जानकारी उनकी गिरफ्तारी के 22 दिनों बाद 25 मार्च, 2016 को दी। जाधव को पाकिस्तान ने अपने आर्मी एक्ट के तहत आरोपी बनाया और मिलिट्री ट्रायल कर उन्हें 10 अप्रैल, 2017 को मौत की सजा सुना दी। भारत जाधव के लिए कांसुलर एक्सेस की मांग करता रहा, जिसे पाकिस्तान ने बार-बार रिजेक्ट कर दिया।


इसके बाद भारत को यह केस लेकर 8 मई, 2017 को इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस जाना पड़ा। कोर्ट ने इस साल अपने फैसले में पाकिस्तान के खिलाफ फैसला देते हुए कहा कि उसे जाधव को सिविलियन कोर्ट में अपील करने का मौका देना चाहिए।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।