Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

IIT Madras Convocation: Hackathon में पीएम मोदी को पसंद आया यह इनोवेशन, संसद ले जाने की बात कही

पीएम ने अपने भाषण में कहा कि भारत के युवा दुनिया भर में ब्रांड इंडिया को मजबूत कर रहे हैं
अपडेटेड Sep 30, 2019 पर 16:53  |  स्रोत : Moneycontrol.com

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को IIT Madras के दीक्षांत समारोह में हिस्सा लिया। उन्होंने यहां पर चल रहे India-Singapore Hackathon के विनर्स को सम्मानित भी किया। उन्होंने छात्रों से उनके स्टार्टअप आइडिया सुने और उन्हें प्रोत्साहित किया। यहां उन्होंने स्टार्टअप एग्जिबिशन भी देखा।


पीएम ने यहां अपने भाषण में कहा कि भारत के युवाओं पर दुनिया भर में भरोसा किया जा रहा है। वो दुनिया भर में ब्रांड इंडिया को मजबूत कर रहे हैं।


पीएम ने दीक्षांत समारोह में अपने भाषण के दौरान कहा- अमेरिका में जब मैंने इनवेस्टर्स और टेक दिग्गजों से बात की जो एक खास बात मुझे सबसे ज्यादा सुनने में आई, वो थी उनका भारतीय लोगों में भरोसा। भारतीय समुदाय ने दुनिया भर में साइंस और टेक के क्षेत्र में अपना नाम कमाया है। इसमें आपके सीनियर्स भी शामिल हैं, आप लोग पूरी दुनिया में में ब्रांड इंडियो को मजबूत कर रहे हैं।


हैकेथॉन में हिस्सा लेने वाले स्टूडेंट्स से पीएम ने कहा कि पिछले 36 घंटों से मुश्किल सवालों का हल ढूंढ रहे इन छात्रों के चेहरे पर जरा भी थकान नहीं है और वो पूरी ऊर्जा और संतुष्टि से काम कर रहे हैं। मैं उनको सलाम करता हूं। मुझे उम्मीद है कि ये लोग जिन मुश्किलों को हल कर रहे हैं, वो कल के स्टार्टअप आइडिया होंगे।


इसके अलावा पीएम ने यह भी बताया कि उन्हें इस हैकेथॉन में सबसे बढ़िया आइडिया कौन सा लगा। उन्होंने हैकेथॉन के अपने भाषण के दौरान कहा- मुझे खासतौर पर कैमरे पर वो समाधान अच्छा लगा, जिसमें आप पता लगा सकते हैं कि किसका ध्यान कहां है, कौन ध्यान दे रहा है कौन नहीं। अब आप जानते हैं क्या होगा. अब मैं संसद में अपने स्पीकर से बात करूंगा। यह संसद के लिए काफी कारगर साबित होगी।


पीएम ने कहा कि वो इन छात्रों की आंखों में भारत का भविष्य देख रहे हैं। उन्होंने दीक्षांत में ग्रेजुएट होने वाले सभी छात्रों और उनके माता-पिता को बधाई दी।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।