Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

इस साल 2000 रुपए का एक नोट भी नहीं छपा, सिस्टम से हटाने की तैयारी?

2000 रुपए का नया नोट नवंबर 2016 में पेश किया गया थ। तब सरकार ने 500 रुपए और 1000 रुपए के पुराने नोट को बैन कर दिया था
अपडेटेड Oct 16, 2019 पर 08:39  |  स्रोत : Moneycontrol.com

क्या आपने नोटिस किया है कि अब आपको 2000 रुपए के नोट बाजार में ज्यादा नहीं दिखते? इसकी वजह अब पता चल चुकी है। रिजर्ल बैंक ने एक RTI के जवाब में बताया है कि 2000 रुपए के नोटों की छपाई बंद हो चुकी है। इस फाइनेंशियल ईयर में 2000 रुपए का एक भी नोट नहीं छापा गया है।


2000 रुपए का नया नोट नवंबर 2016 में पेश किया गया थ। तब सरकार ने 500 रुपए और 1000 रुपए के पुराने नोट को बैन कर दिया था। सरकार नोटबंदी के जरिए सिस्टम से ब्लैकमनी हटाना चाहती थी।


RBI ने RTI के जवाब में बताया है कि फिस्कल ईयर 2016-17 के दौरान 2000 रुपए के 3,54.29 करोड़ नोट छापे गए थे। न्यू इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, फिस्कल ईयर 2017-18 में यह घटकर 11.15 करोड़ नोट हो गए। इसके बाद 2018-19 में यह और घटकर 4.66 करोड़ रह गए। 


अधिकारियों के मुताबिक, सिस्टम में 2000 रुपए का बहुत ज्यादा नोट होने की वजह से ब्लैकमनी को रोकना मुश्किल हो जाता है। कुछ दिनों पहले ही आंध्र प्रदेश-तमिलनाडु बॉर्डर पर 6 करोड़ रुपए के 2000 रुपए के नोट जब्त किए गए।


RBI के आंकड़ों से पता चला कि वह धीरे-धीरे 2000 रुपए का सर्कुलेशन खत्म कर देना चाहता है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।