Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

PMC Bank के अकाउंटहोल्डर्स को RBI ने दी राहत, इमरजेंसी में निकाल सकेंगे 1 लाख रुपए

अकाउंटहोल्डर्स को सेंट्रल बैंक की ओर से नियुक्त किए एडमिनिस्ट्रेटर से मंजूरी लेनी होगी
अपडेटेड Nov 20, 2019 पर 08:51  |  स्रोत : Moneycontrol.com

घोटाले में फंसे Punjab and Maharashtra Cooperative (PMC) Bank के अकाउंटहोल्डर्स को रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने एक बड़ी राहत दी है। अब PMC बैंक के अकाउंटहोल्डर्स इमरजेंसी मेडिकल जरूरतों की स्थिति में एक लाख रुपए तक निकाल सकते हैं। इसके लिए उन्हें सेंट्रल बैंक की ओर से नियुक्त किए एडमिनिस्ट्रेटर से मंजूरी लेनी होगी।


रिजर्व बैंक ने मंगलवार को बॉम्बे हाईकोर्ट में दायर एफिडेविट में कहा कि विवाह, शिक्षा, जीवनयापन आदि जैसी दिक्कतों की स्थिति में कैश निकालने की सीमा 50 हजार रुपए है। एफिडेविट में कहा गया कि बैंक और इसके अकाउंटहोल्डर्स के हितों की रक्षा के लिए इस तरह की लिमिट तय करना जरूरी था।


रिजर्व बैंक के वकील वेंकटेश धोंड ने जस्टिस एस.सी. धर्माधिकारी और जस्टिस आर.आई. चागला की बेंच को बताया कि दिक्कतों से जूझ रहे अकाउंटहोल्डर्स सेंट्रल बैंक की ओर से नियुक्त प्रशासक से मिलकर एक लाख रुपए तक की निकासी की मांग कर सकते हैं।


बैंक ने कोर्ट को बताया कि पीएमसी बैंक में बड़े पैमाने स्तर पर गड़बड़ियां पाई गई हैं। बेंच इस मामले पर अगली सुनवाई चार दिसंबर को करेगी।


बता दें कि वित्तीय गड़बड़ियों के आरोपों के मद्देनजर रिजर्व बैंक ने 23 सितंबर को पीएमसी बैंक पर छह महीने के लिए रेगुलेटरी रुकावटें लगा दी थी।




सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।