Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

सऊदी के प्रिंस ने दी सफाई- खशोगी हत्याकांड की जिम्मेदारी मेरी, लेकिन आदेश मैंने नहीं दिए थे

प्रिंस ने इस हत्या की जिम्मेदारी ली हैं क्योंकि इस काम को सऊदी अरब की सरकार के लोगों ने अंजाम दिया था
अपडेटेड Sep 30, 2019 पर 16:28  |  स्रोत : Moneycontrol.com

सऊदी अरब के क्राऊन प्रिंस वली मोहम्मद बिन सलमान ने एक टेलीविजन इंटरव्यू में साफ किया है कि वह पत्रकार जमाल खशोगी की निर्मम हत्या की "पूरी जिम्मेदारी" लेते हैं लेकिन उन्होंने इस बात से इनकार किया कि उन्होंने इस हत्या के आदेश दिए थे। प्रिंस ने कहा कि वो इस हत्या की जिम्मेदारी लेते हैं क्योंकि इस काम को सऊदी अरब की सरकार के लिए काम करने वाले लोगों ने अंजाम दिया था।


प्रिंस सलमान ने रविवार को "60 Minutes" के एक इंटरव्यू में कहा, "यह जघन्य अपराध था लेकिन सऊदी अरब का नेता होने के नाते मैं पूरी जिम्मेदारी लेता हूं खासतौर से इस बात की कि सऊदी अरब सरकार के लिए काम करने वाले लोगों ने इसे अंजाम दिया।"


द वाशिंगटन पोस्ट में अपने आर्टिकल के लिए आलोचकों के निशाने पर रहने वाले खशोगी की हत्या का आदेश दिए जाने के बारे में पूछने पर उन्होंने जवाब दिया- "बिल्कुल नहीं।" उन्होंने कहा कि हत्या "एक गलती" थी।


प्रिंस क्राउन ने यह भी कहा कि "कुछ लोग सोचते हैं कि मुझे यह पता होना चाहिए कि सऊदी अरब के लिए काम करने वाले 30 लाख लोग रोजाना क्या कर रहे हैं। यह असंभव है कि 30 लाख लोग नेता और सऊदी अरब में दूसरे शीर्ष शख्स को अपनी डेली रिपोर्ट भेजें।"


बता दें कि पिछले हफ्ते खबर आई कि प्रिंस सलमान ने एक डॉक्यूमेंट्री में कहा था यह हत्या उनकी निगरानी में हुई थी। इसके लिए उन्होंने "under my watch" फ्रेज़ का इस्तेमाल किया था। इसके बाद इस इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि हत्या की जिम्मेदारी वो ले रहे हैं क्योंकि ये काम उनके सरकार में काम करने वाले लोगों ने किया है लेकिन हत्या के आदेश उन्होंने नहीं दिए थे।


पत्रकार जमाल खशोगी तुर्की मूल की अपनी मंगेतर से शादी करने के लिए जरूरी दस्तावेज लेने के लिए 2 अक्टूबर, 2018 को तुर्की में सऊदी एंबेसी गए थे। इस दौरान सऊदी सरकार के एजेंटों ने एंबेसी के भीतर खशोगी की हत्या कर दी थी और उनके शव को क्षत-विक्षत कर दिया जो कभी बरामद नहीं किया गया। सऊदी अरब ने हत्या मामले में 11 लोगों पर आरोप लगाया और उन पर मुकदमा चलाया। हालांकि अभी तक किसी को भी सजा नहीं मिली है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।