Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

एक पेपर पर लिख देने से राहुल गांधी ब्रिटिश नहीं हो जाते: SC

प्रकाशित Thu, 09, 2019 पर 13:41  |  स्रोत : Moneycontrol.com

सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को राहुल गांधी की नागरिकता पर सवाल उठाने वाली याचिका को खारिज कर दिया। कोर्ट में राहुल गांधी के ब्रिटिश नागरिक होने के दावे के साथ एक याचिका दाखिल की गई थी और उनके लोकसभा चुनाव लड़ने पर रोक लगाने के लिए केंद्र और निर्वाचन आयोग को आदेश देने की मांग की गई थी।


याचिका में कहा गया था कि 2005-06 में ब्रिटेन की एक कंपनी के वार्षिक डाटा के साथ दिए गए फॉर्म में राहुल गांधी के ब्रिटिश नागरिक होने का कथित रूप से उल्लेख है।


इस मामले की सुनवाई कर रहे चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस दीपक गुप्ता और जस्टिस संजीव खन्ना की बेंच ने इस दलील को अस्वीकार कर दिया। बेंच ने कहा कि अगर कोई कंपनी किसी फॉर्म में ये लिख दे कि राहुल गांधी ब्रिटिश नागरिक हैं, तो इससे वो ब्रिटिश नागरिक नहीं हो जाते। पेपर पर लिखने से किसी की नागरिकता नहीं मानी जा सकती। बेंच ने कहा कि राहुल के खिलाफ अपील में मेरिट नहीं है।


बता दें कि इस संबंध में गृह मंत्रालय ने भी राहुल गांधी भी स्पष्टीकरण मांगा है। बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने राहुल की नागरिकता और शैक्षणिक योग्यता को लेकर एक चिट्ठी लिखी थी, जिसके बाद गृह मंत्रालय ने राहुल को एक नोटिस भेजकर इस पर सफाई मांगी है। राहुल को इसका जवाब 15 दिनों में देना है।