Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

अयोध्या विवाद: SC ने मध्यस्थता के लिए 15 अगस्त तक का वक्त दिया

प्रकाशित Fri, 10, 2019 पर 11:15  |  स्रोत : Moneycontrol.com

सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को रामजन्म भूमि-बाबरी मस्जिद विवाद केस में मध्यस्थ कमेटी को मध्यस्थता के लिए 15 अगस्त तक का वक्त दिया है। कोर्ट अयोध्या विवाद की सुनवाई कर रही थी।


कोर्ट ने सुनवाई के दौरान कहा कि तीन सदस्यीय मध्यस्थता कमेटी ने रिपोर्ट सौंप दी है और 15 अगस्त तक का समय मांगा है। कमेटी 7 मई की तारीख वाली एक रिपोर्ट पेश की है।


कोर्ट ने शीर्ष अदालत के पूर्व जज एफएमआई कलीफुल्ला की अगुवाई वाली तीन सदस्यीय कमेटी को 15 अगस्त तक का समय दे दिया। कोर्ट ने कहा कि मध्यस्थता प्रक्रिया के बीच कोई नहीं आएगा। कोर्ट ने कहा कि मध्यस्थता पैनल को लगता है कि बीच का कोई रास्ता निकल सकता है। इसलिए ऐसी कोई वजह नहीं है, जिसके लिए पैनल को समाधान ढूंढने का वक्त न दिया जाए। कोर्ट ने सभी पक्षों को 30 जून तक पैनल के सामने अपनी आपत्तियां दर्ज कराने की अनुमति दी है।


15 अगस्त तक का वक्त देने का मतलब है कि कोर्ट अब फाइनल रिपोर्ट आने तक मामले में कोई सुनवाई नहीं करेगी।


शुक्रवार को हुई ये सुनवाई बस कुछ ही मिनटों तक चली। सुनवाई CJI रंजन गोगोई, जस्टिस एसए बोबडे, जस्टिस डीवाई चंद्रचूड, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस एस अब्दुल नजीर की बेंच ने की।


राजनीतिक और धार्मिक रूप से संवेदनशील इस मामले में समाधान निकालने के लिए कोर्ट ने मार्च में एक तीन सदस्यीय मध्यस्थता कमेटी बनाई थी। इस कमेटी में सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज एफएमआई कलीफल्ला, आध्यात्मिक गुरु और आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर औक वरिष्ठ अधिवक्ता श्री राम पांचू का नाम शामिल है।