Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

योगी सरकार ने यूपी को दिया बिजली का झटका, तकरीबन 20 फीसदी बढ़ गए दाम

नई टैरिफ दरों में अधिकतम 60 पैसे प्रति यूनिट तक बिजली के दाम बढ़ गए हैं।
अपडेटेड Sep 04, 2019 पर 13:22  |  स्रोत : Moneycontrol.com

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने आम जनता को बिजली का झटका दिया है। घरेलू उपयोग बिजली, किसानों और उद्योग को मिलने वाली बिजली के दाम तकरीबन 8 से  12 फीसदी तक बढ़ा दिए गए हैं। नई दरें अधिकतम 60 पैसे प्रति यूनिट तक बढ़ गई है। अगर आपका अभी तक 3000 रुपये बिजली बिल था, तो अब उसमें 500 रुपये और बढ़ गए।


दो साल बाद सरकार ने बिजली के दाम बढ़ाए हैं। इसके पहले साल 2017 में बिजली के दाम बढ़े थे। सरकार पिछले काफी समय से बिजली के दाम बढ़ाने पर विचार कर रही थी। किसानों को मिलने वाली बिजली 15 फीसदी तक महंगी हो गई है। अब नई दरों में किसानों को 100 यूनिट तक 3 रुपये प्रति यूनिट के हिसाब से देना होगा। साथ ही 50 रुपये फिक्स चार्ज भी देना होगा।


इसी तरह अनमीटर्ड कंज्यूमर्स की दरों में भी बढ़ोत्तरी कर दी गई है। अभी तक अनमीटर्ड कंज्यूमर को 400 रुपये प्रति महीने देना होता था, अब 500 रुपये महीना देना होगा। यानी 100 रुपये की बढ़ोत्तरी कर दी गई है। इंडस्ट्रियल कंज्यूमर्स को बिजली के दाम में 5 से 10 फीसदी की बढ़ोत्तरी की गई है। अब इन्हें 30 पैसे प्रति यूनिट अधिक देने होंगे। साथ ही इंडस्ट्री को गर्मी के समय सुबह और सर्दी में रात में बिजली का उपयोग करने पर 15 फीसदी की छूट मिलेगी। प्रीपेड मीटर वालों को कुछ सहूलियतें दी गई हैं। उन्हें अब 2 फीसदी की छूट मिलेगी। अभी तक यह छूट 1.25 फीसदी थी।


यदि आप घर बनाने या शादी विवाह के लिए अस्थाई बिजली कनेक्शन चाहते हैं, तो उसके दाम में भी बढ़ोत्तरी कर दी गई है। पहले 500 रुपये देना होता था। अब 700 रुपये चुकाने होंगे। साथ ही प्रति यूनिट बिजली दरें भी 50 पैसे तक बढ़ा दी गई हैं। इसके अलावा नगर-निकायों, पंचायतों के ट्यूबवेल की बिजली भी महंगी हो गई है।  


उत्तर प्रदेश पॉवर कॉर्पोरेशन लिमिटेड (UPPCL) ने जून महीने में बिजली के दाम बढ़ाने का सुझाव दिया था। UPPCL ने 26 फीसदी तक बिजली के दाम बढ़ाने का प्रस्ताव दिया था। जिसमें UP Electricity Regulatory Commission (UPERC) ने नई दरों पर काफी मंथन के बाद ये फैसला लिया है।     


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।