Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

दिल्ली-NCR में प्रदूषण के चलते हालात बदतर, PMO ने संभाली कमान

प्रधानमंत्री कार्यालय अब प्रदूषण के बढ़ते स्तर पर निगरानी करेगा।
अपडेटेड Nov 05, 2019 पर 15:51  |  स्रोत : Moneycontrol.com

दिल्ली-NCR में प्रदूषण के चलते हालात बदतर होते जा रहे हैं। यही नहीं देश के अन्य हिस्सों में भी इन दिनों प्रदूषण से जीना दूभर हो रहा है। दिल्ली-NCR, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश और बिहार समेत कई प्रदेशों में हवा में प्रदूषण फैल गया है। दिल्ली-NCR के हालात तो बेहद खराब हैं। यहां गंभीर रूप से खतरनाक स्तर को पार करते हुए 3 गुना आगे बढ़ गया है। आज सोमवार सुबह एक बार फिर दिल्ली धुंध की चादर ओढ़े हुए नजर आई।


आज सुबह दिल्ली के लोधी रोड में Air Quality Index (AQI) के आंकड़े डरावने नजर आए। इंडेक्स के मुताबिक, 500 स्तर को पार कर गया। यह बेहद खराब स्थिति में आता है।


तेजी से बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए प्रधानमंत्री कार्यालय कमान संभाल ली है। PMO ने आपात बैठक की और प्रदूषण पर 24 घंटे निगरानी करने का फैसला किया। प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव पीके मिश्रा और कैबिनेट सचिव राजीव गाबा ने इस मामले में हाईलेवल की मीटिंग बुलाई है। मीटिंग में दिल्ली के अधिकारियों के अलावा पंजाब और हरियाणा की राज्य सरकारों के अधिकारी भी वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए जुड़ेंगे।


मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पर्यावरण मंत्रालय और केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड दिल्ली-NCR में बढ़ते प्रदूषण की समीक्षा करेगा। साथ ही कई विभागों और राज्यों से मिलकर बने एक समीक्षा पैनल प्रदूषण पर निगरानी रखेगा, जिस पर PMO की नजर रहेगी। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) के मुताबिक देश के 5 सबसे अधिक प्रदूषित शहरों में नोएडा तीसरे स्थान पर रहा। दिल्ली में पिछले तीन साल में सबसे प्रदूषित हवा दर्ज की गई।


प्रदूषण बढ़ने की वजह से विलिबिलिटी पर भी असर पड़ा है। इससे  37 फ्लाइट्स को डायवर्ट किया गया है।
      
सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।