Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

ट्रंप के इस नए नियम से रद्द हो जाएंगे आधे US Visa आवेदन, 'गरीबों' को नहीं मिलेगी परमानेंट रेजिडेंसी

इस नए नियम से US Visa के लिए अप्लाई करने वाले आधे से ज्यादा आवेदक अयोग्य घोषित हो जाएंगे
अपडेटेड Aug 13, 2019 पर 13:48  |  स्रोत : Moneycontrol.com

ट्रंप प्रशासन के इस नए कदम के बाद US Visa के लिए अप्लाई करने वाले आधे से ज्यादा आवेदक अयोग्य घोषित हो जाएंगे।


इस नियम के तहत एक निर्धारित सीमा से कम आय के लोगों और ऐसे इमिग्रेंट्स जो वेलफेयर स्कीम, फूड स्टाम्प, पब्लिक हाउसिंग या मेडिकेयर जैसे सरकारी योजनाओं का फायदा उठाते हैं उन्हें यूएस वीजा और परमानेंट रेजिडेंसी नहीं मिलेगी।


ट्रंप के इमिग्रेशन प्रोजेक्ट को देख रहे स्टीफन मिलर की ओर से बनाया गया ये नियम 15 अक्टूबर से लागू हो जाएगा।


इस नए नियम के तहत ऐसे लोगों के वीजा आवेदन को रद्द कर दिया जाएगा जो ट्रंप प्रशासन की ओर से निर्धारित किए गए इनकम स्टैंडर्ड्स को पूरा नहीं करते। इसके तहत उन्हें स्थायी या अस्थायी वीजा देने से इनकार किया जा सकता है।


इस नियम से ट्रंप इमिग्रेशन पर किए गए अपने वादे को पूरा करना चाहते हैं और वैध-अवैध इमिग्रेशन पर रोक लगाना चाहते हैं। साथ ही यह कदम ये सुनिश्चित करने के लिए भी है कि अच्छी इनकम वाले अप्रवासियों को ही अमेरिका आने की अनुमति मिले।


Catholic Legal Immigration Network Inc. के चार्ल्स व्हीलर ने न्यूज एजेंसी रॉयटर्स से कहा कि इस कदम से ट्रंप कांग्रेस को एक ओर करके अपने हिसाब से मेरिट-बेस्ड इमिग्रेशन सिस्टम लागू करना चाहते हैं।


इस नियम पर कई जगहों से विरोध सामने आया है।  National Immigration Law Center ने कहा है कि वो नियम के विरोध में सरकार पर केस करेगा, वहीं न्यूयॉर्क और कैलिफोर्निया के स्टेट अटॉर्नीज जनरल ने भी इस पर कानूनी कार्रवाई का सहारा लेने को कहा है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।