Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

Twitter के CEO जैक डोर्सी को क्यों पसंद है Google की बजाय चीन का सर्च इंजन DuckDuckGo?

DuckDuckGo दावा करता है कि गूगल और फेसबुक की तरह वो यूजर्स की एक्टिविटीज को ट्रैक नहीं करता
अपडेटेड Dec 10, 2019 पर 09:16  |  स्रोत : Moneycontrol.com

माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर (Twitter) के फाउंडर और चीफ एक्जीक्यूटिव ऑफिसर जैक डॉर्सी ने हाल ही में एक दिलचस्प फैक्ट का खुलासा किया है। जैक डॉर्सी ने बताया है कि वो कुछ टाइम से इंटरनेट की दिग्गज कंपनी गूगल (Google) की बजाय चीन के सर्च इंजन DuckDuckGo का इस्तेमाल करते हैं। दरअसल, DuckDuckGo को प्राइवेसी के मामले में ज्यादा सुरक्षित माना जाता है। DuckDuckGo खुद दावा करता है कि गूगल और फेसबुक की तरह वो यूजर्स की एक्टिविटीज को ट्रैक नहीं करता।


CNBC TV18 की खबर के मुताबिक, नेटवर्किंग डिवाइसेज की बड़ी कंपनी Tenda के डायरेक्टर जॉन डॉन्ग ने बताया कि DuckDuckGo भले ही अभी छोटी कंपनी है लेकिन इसकी कुछ बातें हैं जो इसे दूसरे सर्च इंजन्स से अलग बनाती हैं। यह अपने यूजर्स की प्रोफाइलिंग नहीं करता। सभी यूजर्स को हर सर्च टर्म के एक ही सर्च रिजल्ट देता है। यह यूजर्स को कीवर्ड्स के हिसाब से सर्च रिजल्ट दिखाता है। साथ ही ऐसी सभी फेक वेबसाइट्स और क्लिकबेट्स को कैंसल कर देता है, जो सिस्टम में ऑटो डाउनलोड्स हो सकती हैं। इस ब्राउज़र में ज्यादा स्मार्ट एन्क्रिप्शन और प्राइवेट सर्च जैसे फीचर्स हैं।


DuckDuckGo को 2008 में लॉन्च किया गया था लेकिन अभी तक इसके यूजर्स गूगल जैसी बड़ी कंपनियों के आगे काफी कम हैं। गूगल पर रोज़ाना लगभग 3.5 बिलियन सर्च होते हैं, वहीं DuckDuckGo के सर्च 50 मिलियन हैं।


हालांकि, कंपनी यह भी बताती है कि यूजर की प्रोफाइलिंग न करने का मतलब यह नहीं है कि आपको प्लेटफॉर्म पर ऐड्स नहीं दिखेंगे। आपके सर्च टर्म्स के हिसाब से आपको ऐड्स भी दिखेंगे।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।