Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

अमेरिका ने H1B वीजा फीस 10 डॉलर बढ़ाया, जानिए क्यों बढ़ी फीस

ज्यादा फीस का इस्तेमाल इलेक्ट्रॉनिक रजिस्ट्रेशन सिस्टम में किया जाएगा
अपडेटेड Nov 08, 2019 पर 18:45  |  स्रोत : Moneycontrol.com

अमेरिका में काम करने के लिए H1B वीजा जरूरी है। अमेरिका ने अब H1B वीजा का शुल्क 10 डॉलर बढ़ा दिया है। अमेरिकी सरकार ने 7 नवंबर को इसका ऐलान किया था। यह शुल्क नॉन रिफंडेबल है।


अमेरिकी नागरिकता एवं इमिग्रेशन सेवाओं (USCIS) ने बताया कि इस शुल्क का इस्तेमाल नई इलेक्ट्रॉनिक रजिस्ट्रेशन सिस्टम में किया जाएगा। यह सिस्टम  H1B चयन प्रक्रिया, आवेदन करने वालों और संघीय एजेंसी दोनों को प्रभावी बनाने का काम करेगा।


USCIS के कार्यकारी निदेशक केन कुसिनेली ( Ken Cuccinelli) ने कहा, “इसके जरिए  H1B की चयन प्रक्रिया बेहतर बनाने में मदद मिलेगी।”


उन्होंने कहा, “इलेक्ट्रॉनिक पंजीकरण प्रणाली हमारे इमिग्रेशन सिस्टम को आधुनिक बनाने के साथ ही फर्जीवाड़े को रोकने, जांच प्रक्रियाओं में सुधार करने और कार्यक्रम की अखंडता को मजबूत करने की एजेंसी स्तरीय पहल का हिस्सा है।”


H1B वीजा के जरिए अमेरिकी कंपनियां विदेशी एंप्लॉयीज को उन पेशों में अस्थायी नौकरी देती हैं जिनमें किसी खास स्किल या किसी खास क्षेत्र में ग्रेजुएशन या हायर डिग्री की जरूरत पड़ती है।


USCIS ने कहा कि इलेक्ट्रॉनिक पंजीकरण प्रणाली लागू होने के बाद जो आवेदक H1B आवेदन दायर करेंगे। उन्हें पहले USCIS में इलेक्ट्रॉनिक तरीके से पंजीकरण कराना होगा।


संघीय एजेंसी वित्त वर्ष 2021 के लिए पंजीकरण प्रक्रिया के इस सिस्टम के सफल परीक्षण होने के बाद लागू करेगी।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।