Moneycontrol » समाचार » राजनीति

बचपन से थी सेना में जानें की इच्छा: पीएम मोदी

प्रकाशित Wed, 24, 2019 पर 10:28  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

अपने प्रधानमंत्री को हमेशा हमने राजनीति और अर्थव्यवस्था जैसे गंभीर मुद्दों पर ही सुना है लेकिन आज हम आपके सामने रखने वाले हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जिंदगी के कुछ अनछुए पहलू जिन्हें देश का हर इंसान जानना चाहता है। फिल्म अभिनेता अक्षय कुमार ने पीएम मोदी से कुछ ऐसे ही हल्के-फुल्के सवाल पूछे जिनका पीएम ने दिल खोलकर जवाब दिया।


पीएम मोदी ने अभिनेता अक्षय कुमार के साथ हुए गैर-राजनीतिक इंटरव्यू में अपने दिल की बात खुलकर कही है। पीएम ने अपने बचपन से लेकर अब तक के जिंदगी के सफर पर दिल खोलकर बातें की। पीएम ने कहा कि राजनीति और प्रधानमंत्री बनने का सपना उन्होंने नहीं देखा था। बचपन से सेना में जाने की इच्छा थी। कभी पीएम बनने का विचार नहीं आया। बचपन से किताबें पढ़ना शौक रहा है। परिवार चाहता था कि मैं नौकरी करूं। उन्होंने आगे कहा कि जिस घर से हूं वहां नौकरी मिलना बड़ी बात है। पीएम ने कहा कि मुझे खुलकर बातें करना पसंद है।


आज अक्षय कुमार से प्रधानमंत्री ने राजनीति की पेंचीदगी पर नहीं बल्कि हल्की-फुल्की बातें की। क्या हमारे प्रधानमंत्री आम खाते हैं इस सवाल पर हंसते हुए मोदी ने कहा कि मुझे आम खाना बेहद पसंद है। बचपन में खेत में जाकर आम खाए हैं। पेड़ के पके आम खाना ज्यादा पसंद था। आगे उन्होंने कहा कि अब आम खाने पर कंट्रोल करना पड़ता है। अब सोचना पड़ता है कि आम खाऊं या नहीं। देश के किसान को उन्होंने बेहद उदार बताया।


पीएम मोदी ने कहा कि विपक्षी पार्टियों में मेरे कई दोस्त हैं। गुलाम नबी आजाद मेरे अच्छे दोस्त हैं। ममता दीदी मुझे साल में 1-2 कुर्ते जरूर भेजती हैं। शेख हसीना साल में 1-2 बार बंगाली मिठाई भेजती हैं। ममता दीदी भी मुझे मिठाइयां भेजती हैं। आपको गुस्सा आता है? इस सवाल पर पीएम मोदी ने कहा कि राजी, नाराजी, गुस्सा मनुष्य का स्वभाव है। अच्छी चीजों पर बल देना मेरी ट्रेनिंग में है। गुस्सा व्यक्त करने का अवसर कभी नहीं आया।