Moneycontrol » समाचार » राजनीति

वीर सावरकर को भारत रत्न के मुद्दे पर कांग्रेस और शिवसेना में खींचतान

महाराष्ट्र में महाआघाड़ी में रह-रह कर दरार नजर आ जाता है।
अपडेटेड Jan 19, 2020 पर 15:01  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

महाराष्ट्र में महाआघाड़ी में रह-रह कर दरार नजर आ जाता है। वीर सावरकर को भारत रत्न के मुद्दे पर कांग्रेस और शिवसेना में तलवारें खिंचने की नौबत आ गई। पहले शिवसेना सांसद और प्रवक्ता संजय राउत ने सावरकर के विरोधियों की सोच पर सवाल उठाया और कहा कि ऐसे नेताओं को कुछ दिन अंडमान जेल में रहकर आना चाहिए। वहीं कांग्रेस के पृथ्वीराज चव्हाण ने भी कह दिया कि अगर वीर सावरकर को भारत रत्न दिया गया तो कांग्रेस सड़क पर उतरकर विरोध करेगी। हालांकि बाद में शिवसेना के युवा चेहरा आदित्य ठाकरे सामने आए। उन्होंने कहा कि सावरकर पर संजय राउत का जो बयान है वो पार्टी का नहीं ब्लकि संजय राउत का निजी बयान है।


शिवसेना नेता संजय राउत ने अशोक चव्हाण के बयान का पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि जो भी वीर सावरकर को भारत रत्न देने का विरोध कर रहा है...वो पहले अंडमान के जेल में 2 दिन जाकर रहें।



सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।