Moneycontrol » समाचार » राजनीति

मानहानि केस: कोर्ट में पेश हुए राहुल गांधी, कहा चुप कराने के लिए बेताब हैं विरोधी

मानहानि केस की पेशी के लिए सूरत पहुंचे राहुल गांधी ने कोर्ट के सामने पेश होने की छूट का आवेदन दाखिल किया जिसका जवाब देने के लिए कोर्ट ने 10 दिसंबर की तारीख तय की है।
अपडेटेड Oct 10, 2019 पर 16:44  |  स्रोत : Moneycontrol.com

राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव 2019 के प्रचार अभियान के दौरान पीएम मोदी के उपनाम मोदी को लेकर दिए गए विवादस्पद बयान को लेकर मानहानि के केस में राहुल गांधी सूरत की एक कोर्ट में पेश हुए। कोर्ट में जब जज ने पूछा कि क्या उन्हें अपना गुनाह कबूल है, तो राहुल गांधी ने कहा- नहीं। राहुल गांधी ने इस मामले में पेशी से छूट के लिए अर्जी डाली है। कोर्ट ने 10 दिसंबर को उनकी अर्जी पर सुनवाई करने का फैसला किया है। अदालत ने कहा कि अगली सुनवाई में गांधी को हाजिर होने की कोई जरूरत नहीं है।


दरअसल कर्नाटक में 13 अप्रैल को कोलार में अपनी एक प्रचार रैली के दौरान राहुल ने कथित तौर पर कहा था कि ‘नीरव मोदी, ललित मोदी, नरेंद्र मोदी.... आखिर इन सभी का उपनाम मोदी क्यों है ? सभी चोरों का उपनाम मोदी क्यों होता है ? इस पर सूरत-वेस्ट से भाजपा विधायक पूर्णेश मोदी ने गांधी के खिलाफ मामला दर्ज करवाया था। पूर्णेश ने कहा था कि कांग्रेस नेता ने लोकसभा चुनाव के दौरान अपनी टिप्पणी से पूरे मोदी समुदाय की मानहानि की है। इस मामले की जुलाई में हुई सुनवाई के दौरान कोर्ट ने राहुल को सुनवाई में निजी तौर पर पेश होने से छूट दी थी और अगली सुनवाई की तारीख 10 अक्टूबर तय की थी। 


वहीं अब राहुल गांधी को 11 अक्टूबर को एक और मानहानि केस में अहमदाबाद की एक कोर्ट में पेश होना है। राहुल ने इस बारे में ट्वीट कर कहा है कि उन्हें चुप कराने को बेकरार विपक्षियों ने यह केस दर्ज कराया है। इधर पार्टी के सीनियर नेताओं ने इस बारे में कहा है कि कानून को अपना काम करने देना चाहिए।



सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।