Moneycontrol » समाचार » राजनीति

INX Media Case: तिहाड़ जेल में चिदंबरम से पूछताछ के बाद ED ने गिरफ्तार किया

इससे पहले पूर्व फाइनेंस मिनिस्टर 17 अक्टूबर तक CBI की ज्यूडिशयल कस्टडी में हैं
अपडेटेड Oct 16, 2019 पर 13:04  |  स्रोत : Moneycontrol.com


एनफोर्समेंट डायरेक्टोरेट (ED) ने पूर्व फाइनेंस मिनिस्टर पी चिदंबरम को INX Media Case में गिरफ्तार कर लिया है। इससे एक दिन पहले दिल्ली कोर्ट ने उन्हें ED को चिदंबरम को गिरफ्तार करने की इजाजत दी थी।


ED के अधिकारी बुधवार को तिहाड़ जेल पहुंचे और चिंदबरम से पूछताछ की। 74 साल के चिदंबरम 5 सितंबर से तिहाड़ जेल में हैं। CBI ने पूछताछ के बाद उन्हें गिरफ्तार किया था। चिदंबरम को पहली बार 21 अगस्त को कस्टडी में लिया गया था।


चिदंबरम की कस्टडी की मांग कर रही जांच एजेंसी ED की तरफ से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता पैरवी कर रहे हैं। उन्होंने स्पेशल CBI जज अजय कुमार कुहार से कहा कि सुप्रीम कोर्ट की जांच में पता चला है कि चिदंबरम को कस्टडी में लेकर पूछताछ करना जरूरी है।


कुहार ने ED को इस बात की अनुमति दे दी कि वह तिहाड़ जाकर चिदंबरम से पूछताछ करे जरूरत पड़ने पर उन्हें गिरफ्तार करे। INX Media करप्शन मामले में CBI की तरफ से दायर केस में चिदंबरम 17 अक्टूबर तक ज्यूडिशियल कस्टडी में हैं। स्पेशल कोर्ट ने 3 अक्टूबर को चिदंबरम की ज्यूडिशियल कस्टडी बढ़ाकर 17 अक्टूबर कर दिया था। 


क्या था मामला?


CBI ने चिदंबरम के खिलाफ एक FIR दायर की थी। पूर्व केंद्रीय मंत्री पर आरोप है कि 2007 में जब वह फाइनेंस मिनिस्टर थे, तब 305 करोड़ रुपए के बदले में INX Media को फॉरेन इनवेस्टमेंट प्रमोशन बोर्ड (FIPB) क्लीयरेंस दी थी। जबकि ED चिदंबरम के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग की जांच कर रहा है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।