Moneycontrol » समाचार » राजनीति

चुनाव आयोग ने ममता पर बैन के बाद अब बंगाल BJP अध्यक्ष दिलीप घोष को जारी किया नोटिस

अब चुनाव आयोग ने इस विवादित बयान पर संज्ञान लिया है और BJP नेता को नोटिस थमाया गया है
अपडेटेड Apr 13, 2021 पर 21:37  |  स्रोत : Moneycontrol.com

चुनाव आयोग (Election Commission) ने पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर 24 घंटे के चुनाव प्रचार पर प्रतिबंध लगाने के एक दिन बाद मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी (BJP) के पश्चिम बंगाल के अध्यक्ष दिलीप घोष को कूचबिहार में गोलीबारी के बारे में एक कथित विवादित बयान देने के लिए कारण बताओ नोटिस जारी किया है।


चुनाव आयोग ने बयान को भड़काऊ और लोगों को उकसाने वाला माना है, जो कि चुनावी राज्य पश्चिम बंगाल की कानून-व्यवस्था को प्रभावित कर सकता है। इसलिए भाजपा नेता को इस पर जवाब दाखिल करने को कहा गया है। आयोग ने घोष को बुधवार की सुबह 10 बजे तक उत्तर 24 परगना (पश्चिम बंगाल) के बारंगर में एक सार्वजनिक रैली को संबोधित करते हुए की गई टिप्पणी पर अपना जवाब देने को कहा है।


क्या था विवादित बयान?


दिलीप घोष के रविवार को दिए एक बयान से नया विवाद खड़ा हो गया है। एक चुनावी रैली में उन्होंने कहा था कि अगर सीतलकूची में मारे गए शरारती लड़कों की तरह किसी ने कानून हाथ में लेने का प्रयास किया तो चुनावों के अगले चरण में भी कूचबिहार की तरह हत्याएं हो सकती हैं। इस पर तृणमूल कांग्रेस ने सख्त आपत्ति जताते हुए उन्हें गिरफ्तार करने की मांग की। वहीं, माकपा ने कहा कि यह बयान भगवा दल के फासीवादी चेहरे को उजागर करता है।


हालांकि, अब चुनाव आयोग ने इस विवादित बयान पर संज्ञान लिया है और BJP नेता को नोटिस थमाया गया है। बता दें, सीतलकूची विधानसभा क्षेत्र में शनिवार को चौथे चरण के मतदान के दौरान CISF के जवानों से कुछ लोगों द्वारा राइफलें छीनने का प्रयास करने के बाद केंद्रीय बल ने गोलीबारी की, जिसमें चार लोगों की मौत हो गई।


तृणमूल कांग्रेस के नेता डेरेक ओ ब्रायन द्वारा चुनाव आयोग को शिकायत करने के बाद यह नोटिस जारी किया गया है। वहीं, BJP नेता राहुल सिन्हा पर भी चुनाव आयोग ने कार्रवाई की है। चुनाव आयोग ने राहुल सिन्हा पर अगले 48 घंटों तक किसी भी तरीके से चुनाव प्रचार करने से रोक लगा दी है। उन पर ये रोक चौथे चरण के मतदान के दौरान कूच बिहार के सीतलकूची में हुई हिंसा पर विवादित बयान देने के बाद लगाई गई है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।