Moneycontrol » समाचार » राजनीति

Elections 2021: पश्चिम बंगाल में 8, असम में 3, केरल, तमिलनाडु और पुडुचेरी में एक चरण में वोटिंग, जानें तारीख

सभी चारों राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में विधानसभा चुनावों के नतीजे 2 मई को आएंगे
अपडेटेड Feb 27, 2021 पर 14:03  |  स्रोत : Moneycontrol.com

चुनाव आयोग (EC) आज चार राज्यों पश्चिम बंगाल (West Bengal), तमिलनाडु (Tamil Nadu), असम (Assam), केरल (Kerala) और एक केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी (Puducherry) में आगामी विधानसभा चुनाव (Assembly Polls) की तारीखों का ऐलान कर दिया है। पश्चिम बंगाल में आठ चरणों में मतदान होगा। जबकि, असम में तीन चरणों में और केरल, तमिलनाडु और पुडुचेरी में एक-एक चरण में ही मतदान होना है। वहीं सभी चारों राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश के नतीजे 2 मई को आएंगे।


बता दें कि चुनाव की तारीखों को अंतिम रूप देने के लिए आयोग ने कल एक बैठक भी की थी, जिसके बाद आज तारीखों की घोषणा की गई है। ये विधानसभा चुनावों का दूसरा दौर है, जो पिछले साल अक्टूबर और नवंबर में बिहार में तीन चरणों में हुए मतदान के बाद कोरोनोवायरस महामारी (Coronavirus) के दौरान होगा।


चुनाव आयोग PC Updates:


- पश्चिम बंगाल के किस चरण में कितनी सीटों पर होगा चुनाव?


पहला चरण- 30 सीट
दूसरा चरण- 30 सीट
तीसरा चरण- 31 सीट
चौथा चरण- 44 सीट
पांचवां चरण- 45 सीट
छठा चरण- 43 सीट
सातवां चरण- 36 सीट
आठवां चरण- 35 सीट


- पश्चिम बंगाल में आठ चरणों में मतदान होना है।


पहला चरण- 27 मार्च
दूसरा चरण- 1 अप्रैल
तीसरा चरण- 6 अप्रैल
चौथा चरण- 10 अप्रैल
पांचवां चरण- 17 अप्रैल
छठा चरण- 6 अप्रैल
सातवां चरण- 26 अप्रैल
आठवां चरण- 29 अप्रैल


- तमिलनाडु विधानसभा चुनाव 6 अप्रैल को होंगे। मतगणना 2 मई को होगी: CEC


- पुडुचेरी में एक चरण में होगा चुनाव। पुडुचेरी में 6 अप्रैल को चुनाव होने हैं।


- केरल में एक चरण में होगा चुनाव। केरल में 6 अप्रैल को मतदान होगा: CEC


- 3 चरणों में होने वाले असम विधानसभा चुनाव- पहले चरण का मतदान- 27 मार्च, दूसरे चरण का मतदान- 1 अप्रैल और तीसरे चरण का मतदान -6 अप्रैल; मतगणना की तारीख 2 मई: CEC


- पांच विधानसभा चुनावों के लिए उम्मीदवारों को ऑनलाइन नामांकन दाखिल करने की व्यवस्था, अतिरिक्त एक घंटे के लिए मतदान की अनुमति: CEC


- पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से पहले सभी मतदान अधिकारियों को COVID-19 वैक्सीन लगाई जाएगी: CEC


- डोर-टू-डोर कैंपेनिंग के लिए उम्मीदवार सहित केवल पांच लोगों को अनुमति होगी। रोड शो आयोजित किया जा सकता है: CEC


- केरल में पहले 21,498 चुनाव केंद्र थे, अब यहां चुनाव केंद्रों की संख्या 40,771 होगी। पश्चिम बंगाल में 2016 में 77,413 चुनाव केंद्र थे अब 1,01,916 चुनाव केंद्र होंगे: सुनील अरोड़ा, मुख्य चुनाव आयुक्त


- असम में 2016 विधानसभा चुनाव में 24,890 चुनाव केंद्र थे, 2021 में चुनाव केंद्रों की संख्या 33,530 होगी। तमिलनाडु में 2016 विधानसभा चुनाव में 66,007 चुनाव केंद्र थे, 2021 में चुनाव केंद्रों की संख्या 88,936 होगी: सुनील अरोड़ा, मुख्य चुनाव आयुक्त


- पांच राज्यों की कुल 824 विधानसभा सीटों पर चुनाव होंगे। तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, केरल, असम और पुदुचेरी के 2.7 लाख मतदान केंद्रों पर 18.68 करोड़ मतदाता वोट डालेंगे: CEC


- असम विधानसभा का कार्यकाल 31 मई, तमिलनाडु का कार्यकाल 24 मई, पश्चिम बंगाल का कार्यकाल 30 मई, केरल विधानसभा का कार्यकाल 1 जून तक खत्म होगा: CEC


- किस राज्य में कितनी सीट?


असम- 126 विधानसभा  सीट


तमिलनाडु- 234 विधानसभा सीट


पश्चिम बंगाल- 294 विधानसभा सीट


केरल- 140 विधानसभा सीट


पुडुचेरी- 30 विधानसभा सीट


- मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि COVID-19 योद्धाओं, डॉक्टरों, पैरामेडिक्स, नर्सों, शोधकर्ताओं, वैज्ञानिकों और चुनाव ड्यूटी पर मौजूद हमारे सभी अधिकारियों को हम धन्यवाद देते हैं, जो अग्रिम पंक्ति में स्थित हैं।


- चुनाव आयोग की प्रेस कॉन्फ्रेंस शुरू। मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने बताया कि पश्चिम बंगाल, तमिलानाडु, असम, केरल और केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी में होने वाले विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान करेंगे।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।