Moneycontrol » समाचार » राजनीति

जम्मू कश्मीर: फारुक अब्दुल्ला की हिरासत 3 महीने और बढ़ी

फारुक अब्दुल्ला की रिहाई 3 महीने बढ़ा दी गई है। यानी अब उनकी रिहाई मार्च 2020 तक होने की संभावना है।
अपडेटेड Dec 16, 2019 पर 09:12  |  स्रोत : Moneycontrol.com

जम्मू कश्मीर के पूर्व सीएम फारुक अब्दुल्ला की हिरासत 3 महीने के लिए बढा दी गई है। केंद्र सरकार ने 5 अगस्त को जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने पर फारुक अब्दुल्ला को उनके अपने घर में नजरबंद कर दिया गया था। यानी अब उनकी रिहाई मार्च 2020 तक होने की संभावना है।


नेशनल कॉन्फ्रेन्स के नेता फारुक अब्दुल्ला को Public Safety Act (PSA) के तहत नजरबंद रखा गया है। हाल ही में गृहमंत्रालय के सलाहकार बोर्ड ने 5 बार के सांसद फारुक अब्दुल्ला के घर पर मुलाकात की थी। इसके बाद बोर्ड की सलाह पर फारुक अब्दुल्ला की हिरासत बढ़ाने का फैसला किया गया।


बता दें कि फारूक अब्दुल्ला  तीन बार राज्य के मुख्यमंत्री रह चुके हैं और मौजूदा समय में श्रीनगर से सांसद हैं। PSA के तहत सरकार किसी शख्स को बिना ट्रायल के छह महीने से दो साल की समयावधि के लिए हिरासत में रख सकती है।
इससे पहले जम्मू कश्मीर में भाजपा की सहयोगी रही पीडीपी के एक सांसद ने गृहमंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर तीन पूर्व मुख्यमंत्रियों समेत नजरबंद अन्य नेताओं को रिहा करने की मांग की थी। उन्होंने शाह से घाटी के लोगों के मन में बैठे डर को भी दूर करने की अपील की थी।


82 साल के फारुक अब्दुल्ला पहले सीएम हैं, जिन पर PSA एक्ट के तहत कार्रवाई हुई है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।