Moneycontrol » समाचार » राजनीति

फाइनेंस मिनिस्टर ने कहा- भारतीय अर्थव्यवस्था की ग्रोथ घटी है, सुस्ती नहीं आई

फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण ने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था की ग्रोथ रेट G-20 के देशों के मुकाबले ज्यादा है
अपडेटेड Nov 19, 2019 पर 10:39  |  स्रोत : Moneycontrol.com

फाइनेंस मिनिस्ट्री ने सोमवार को कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था की ग्रोथ कमजोर हुई है लेकिन यह अब भी G-20 देशों के मुकाबले ज्यादा है। भारत सरकार का टारगेट 2025 तक भारत की अर्थव्यवस्था को 5 लाख करोड़ डॉलर की बनाने की है।


फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण ने केरल के सांसद एनके प्रेमचंद्रन के एक सवाल के लिखित जवाब में कहा कि ग्रोथ में हालिया गिरावट के बावजूद वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम ने जिस ग्रोथ रेट का अनुमान लगाया है वह G-20 देशों से ज्यादा है।


सीतारमण ने अपने जवाब में लिखा है, "इकोनॉमी में निवेश बढ़ाने, कंजम्प्शन को तेज करने के लिए सरकार कई कदम उठा रही है।" सीतारमण ने कहा कि सरकार अलग-अलग स्टेकहोल्डर्स से मिलकर उनकी चिंता के बारे में जानना चाहती है। उन्होंने कहा कि सरकार सुधार के कदम उठा रही है ताकि इनवेस्टमेंट के माहौल को बेहतर बनाया जा सके।


वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने आम आदमी पार्टी के भगवंत सिंह मान के सवाल के जवाब में 2016 के नोटबंदी को सही ठहराया है। उन्होंने कहा कि नोटबंदी से देश में टैक्स पेयर्स की संख्या बढ़ी है। ठाकुर ने कहा है, "5 फीसदी ग्रोथ को अर्थव्यवस्था की सुस्ती नहीं कह सकते हैं। 2025 तक हमारा मकसद भारत की अर्थव्यवस्था को 5 लाख करोड़ डॉलर तक पहुंचाने का है।"


जून 2019 तिमाही में भारतीय अर्थव्यवस्था की ग्रोथ रेट घटकर 5 फीसदी पर आ गई है। आशंका है कि सितंबर तिमाही में यह घटकर 4.2 फीसदी रह सकती है। सितंबर तिमाही के लिए GDP के आंकड़े 29 नवंबर को आने वाले हैं।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।