Moneycontrol » समाचार » राजनीति

J&K की पूर्व CM महबूबा मुफ्ती आज हो सकती हैं रिहा

जम्मू और कश्मीर की पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती को बुधवार को रिहा किया जा सकता है। महबूबा बीते 8 महीनों से पब्लिक सेफ्टी एक्ट के तहत हिरासत में हैं
अपडेटेड Mar 25, 2020 पर 15:45  |  स्रोत : Moneycontrol.com

जम्मू कश्मीर की पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती और PDP (Peoples Democratic Party) की नेता महबूबा मुफ्ती को हिरासत में लिए जाने के 8 महीने के बाद आज बुधवार रिहा किए जाने की संभावना जताई जा रही है।
महबूबा बीते आठ महीनों से पब्लिक सेफ्टी एक्ट (Public Safety Act यानी PSA) के तहत नजरबंद की गई हैं। मीडिया रोपर्ट्स के मुताबिक उनको रिहा किए जाने की सारी तैयारियां की जा रही हैं। उम्मीद जताई जा रही हैं कि उन्हें आज दोपहर बाद रिहा किया जा सकता है।


जम्मू कश्मीर में 5 अगस्त 2019 को जब आर्टिकल 370 हटाया गया, उसके बाद महबूबा मुफ्ती समेत उमर अब्दुल्ला और फारुक अब्दुल्ला को नजर बंद कर दिया गया था।


फारुक अब्दुल्ला को पिछले महीने रिहा किया जा चुका है, जबकि उमर अब्दुल्ला को कल मंगलवार को रिहा किया गया। इन्हें भी PSA एक्ट के तहत नजर बंद किया गया था। उमर अब्दुल्ला की रिहाई के बाद महबूबा मुफ्ती के ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया है।  इसमें उन्होंने लिखा है कि अच्छा लगा वो (उमर अब्दुल्ला) रिहा हो रहे हैं। उन्होंने सरकार पर निशाना साधते हुए लिखा कि नारी शक्ति और महिला उत्थान की बात तो होती है, लेकिन लगता है ये सरकार सबसे ज्यादा महिलाओं से ही घबराती है।


फिलहाल जम्मू कश्मीर में आर्टिकल 370 हटाकर केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया है। मुफ्ती की बेटी इल्तिजा मुफ्ती ने अपनी मां की नजरबंदी को चुनौती देते हुए फरवरी महीने में सुप्रीम कोर्ट का रूख किया था।


इससे पहले महबूबा मुफ्ती की बेटी इल्तिजा मुफ्ती ने उपराज्यपाल जी.सी.मुर्मू को पत्र लिखकर देश भर की जेलों से कश्मीरी कैदियों की रिहाई की मांग की थी। उन्होंने पत्र में लिखा, जैसा कि आप जानते हैं हजारों कश्मीरी, जिसमें मेरी मां पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती भी शामिल हैं, जो कि पांच अगस्त से जेल में हैं। जिस तरह पूरी दुनिया कोविड-19 से लड़ रही है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) इसे महामारी घोषित कर चुका है। भारत में यह तीसरे स्तर पर पहुंचने की स्थिति में है। जम्मू-कश्मीर में भी चार मामले सामने आ चुके हैं, जिनके आगे बढ़ने की संभावना है। 


 सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।