Moneycontrol » समाचार » राजनीति

MP के पूर्व CM बाबूलाल गौर का लंबी बीमारी के बाद निधन

बाबूलाल गौर 23 अगस्त 2004 से 29 नवंबर 2005 तक मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे हैं
अपडेटेड Aug 21, 2019 पर 12:41  |  स्रोत : Moneycontrol.com

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर का लंबी बीमारी के बाद बुधवार को भोपाल के नर्मदा अस्पताल में निधन हो गया। उनकी तबियत काफी दिनों से खराब थी। 89 साल के गौर का ब्लड प्रेशर कम हो गया था। साथ ही पल्स रेट भी गिर गई थी। बाबूलाल गौर की किडनी भी पूरी तरह से काम नहीं कर रही थी। वो पिछले 14 दिनों से अस्पताल में भर्ती थे। बुधवार को डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित किया।


पूर्व मुख्यमंत्री की मौत पर तीन दिन के राजकीय शोक की घोषणा की गई है। उनकी अंतिम यात्रा राजकीय सम्मान के साथ निकाली जाएगी। नर्मदा अस्पताल के डायरेक्टर डॉक्टर राजेश शर्मा ने बताया कि दिल का दौरा पड़ने से उनका निधन हो गया। वह वृद्धावस्था संबंधी बीमारियों से जूझ रहे थे।


बाबूलाल गौर का जन्म उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले में 02 जून 1930 को हुआ था। उन्होंने भोपाल की पुट्ठा मिल में मजदूरी करते हुए अपनी पढ़ाई पूरी की। गौर  BHEL  में नौकरी करते हुए श्रमिक आंदोलनों से जुड़े। गौर भारतीय मजदूर संघ के सस्थापक सदस्य भी रहे। बचपन से ही बाबूलाल गौर संघ की शाखाओं में जाया करते थे।


गौर की मृत्य पर पीएम मोदी ने ट्वीट करके कहा कि, बाबूलाल गौर जी का लंबा राजनीतिक जीवन जनता जनार्दन की सेवा में समर्पित था। जनसंघ के समय स ही उन्होंने पार्टी को मजबूत और लोकप्रिय बनाने के लिए मेहनत की। मंत्री और मुख्यमंत्री के रूप में मध्यप्रेदश के विकास के लिए किए गए उनके कार्य हमेशा याद रखे जाएंगे।


वहीं मध्यप्रदेश के पूर्व CM शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, आदरणीय बाबूलाल गौर को सत्य के लिए लड़ने वाले सिपाही और मज़दूरों, गरीबों व कमज़ोर वर्ग के हितों के रक्षक के रूप में सदैव याद किया जायेगा। गोवा मुक्ति आंदोलन से लेकर आपातकाल तक में पुलिस की लाठियों का निडरता से सामना करने वाले नायक युगों युगों तक हमारे दिलों में जिंदा रहेंगे। 


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।