Moneycontrol » समाचार » राजनीति

वाजपेयी सरकार में मंत्री रहे जसवंत सिंह का निधन, 82 साल की उम्र में ली आखिरी सांस

पूर्व रक्षा, विदेश और वित्‍त मंत्री जसवंत सिंह का निधन हो गया है, वो 2014 से कोमा में थे
अपडेटेड Sep 28, 2020 पर 10:18  |  स्रोत : Moneycontrol.com

पूर्व केंद्रीय मंत्री और BJP के संस्थापक सदस्यों में से एक जसवंत सिंह (Jaswant Singh) का निधन हो गया है। वे 82 साल के थे। वे पिछले 6 साल से कोमा में थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पूर्व मंत्री के निधन पर शोक व्यक्त किया है। पीएम मोदी ने जसवंत के बेटे मानवेंद्र से फोन पर बात की। उनके निधन पर दुख जताते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट में लिखा कि जसवंत सिंह जी ने पूरी लगन के साथ हमारे देश की सेवा की। पहले एक सैनिक के रूप में और बाद में राजनीति के साथ अपने लंबे जुड़ाव के दौरान। अटल जी की सरकार के दौरान उन्होंने महत्वपूर्ण विभागों को संभाला और वित्त, रक्षा और विदेश मामलों के विभाग में एक मजबूत छाप छोड़ी। उनके निधन से दुखी हूं। उन्‍हें राजनीति और समाज के विषयों पर अनूठे नजरिए के लिए याद किया जाएगा। उन्‍होंने BJP को मजबूत करने में भी योगदान दिया। मैं हमेशा हम दोनों के बीच हुई बातचीत याद रखूंगा।


पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्‍व वाली सरकार में उन्‍होंने 1996 से 2004 के बीच रक्षा, विदेश और वित्‍त जैसे मंत्रालयों का जिम्‍मा संभाला। 2014 में BJP ने सिंह को बाड़मेर से लोकसभा चुनाव का टिकट नहीं दिया था। नाराज जसवंत ने पार्टी छोड़कर निर्दलीय चुनाव लड़ा मगर हार गए थे। उसी साल उन्‍हें सिर में गंभीर चोटें आई, तब से वह कोमा में थे।


रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने पूर्व केंद्रीय मंत्री के निधन पर कहा, अनुभवी BJP नेता और पूर्व मंत्री श्री जसवंत सिंह जी के निधन से गहरा दुख हुआ। उन्होंने रक्षा मंत्रालय के प्रभारी सहित कई क्षमताओं से देश की सेवा की। उन्होंने खुद को एक प्रभावी मंत्री और सांसद के रूप में प्रतिष्ठित किया। इस दुख की घड़ी में उनके परिवार और समर्थकों के प्रति संवेदनाएं। ओम् शांति।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।