Moneycontrol » समाचार » राजनीति

हेमंत करकरे हमारे लिए शहीद थे और रहेंगे: देवेंद्र फड़णवीस

हेमंत करकरे पर साध्वी प्रज्ञा के बयान से महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने किनारा कर लिया है।
अपडेटेड Apr 22, 2019 पर 10:55  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

हेमंत करकरे पर साध्वी प्रज्ञा के बयान से महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने किनारा कर लिया है। न्यूज 18 नेटवर्क से एक्सक्लूसिव बातचीत में देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि हेमंत करकरे हमारे लिए शहीद थे और रहेंगे लेकिन जिस तरीके से साध्वी का बयान आया है मैं उसे सपोर्ट नहीं करता।


बातचीत में देवेंद्र फड़णवीस ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी हमारी प्रेरणा हैं। पूरे 5 साल पीएम मोदी ने जनता से संवाद किया। मोदी जी का विजय रथ कोई रोक नहीं सकता। राज ठाकरे पर देवेंद्र फड़णवीस ने कहा कि राज ठाकरे बेगानी शादी में अब्दुल्ला दीवाना हैं। राज ठाकरे नकारात्मक बातें करते हैं, वो राजनीति में जगह बनाने की कोशिश कर रहे हैं। कांग्रेस, एनसीपी उनका सिर्फ इस्तेमाल कर रही हैं। कांग्रेस, एनसीपी ने राज का इंजन किराए पर लिया है।


क्या बीजेपी पानी की तरह पैसा बहाती है? इस सवाल पर उन्होंने कहा कि चुनाव जनता के समर्थन से जीते जाते हैं। हमारी पूंजी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं। मोदी के नाम पर जनता हमारे साथ है। राष्ट्रवाद बनाम राष्ट्रद्रोह की राजनीति पर बात करते हुए देवेंद्र फड़णवीस ने कहा कि कांग्रेस सेना पर अंकुश लगाने की बात करती है। ये देशद्रोह कानून खत्म करने की भी बात करती है। कांग्रेस समर्थक कश्मीर में अलग पीएम चाहते हैं। कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र में देश को तोड़ने वालों की बात रखी है। बीजेपी के घोषणापत्र में कामकाज की बात है। राष्ट्रवाद की बात से राष्ट्रद्रोही को दुख होगा ही।


हेमंत करकरे पर साध्वी प्रज्ञा की टिप्पणी पर देवेंद्र फड़णवीस ने कहा कि हेमंत करकरे हमारे लिए शहीद थे और रहेंगे। शहीद करकरे के लिए ऐसे बयान गलत हैं। हम साध्वी प्रज्ञा के बयान का समर्थन नहीं करते। साध्वी ने इस बयान के लिए माफी मांगी है। अन्होंने आगे कहा कि राहुल गांधी बेल पर चुनाव लड़ रहे हैं तो साध्वी प्रज्ञा के चुनाव लड़ने पर आपत्ति क्यों?


प. बंगाल की राजनीति पर बात करते हुए देवेंद्र फड़णवीस ने कहा कि प. बंगाल में लोकतंत्र की हत्या हो रही है। बंगाल में हमारे लोगों को मारा जा रहा है। राज्य में विपक्ष को कुचला जा रहा है। बंगाल ममता बनर्जी के हाथ से जाएगा। मोदी सरकार प्रचंड बहुमत से वापस आएगी।


आजम खान के बयान पर उन्होंने कहा कि ऐसे बयान नेताओं के चरित्र दिखाते हैं। देश की महिलाएं ऐसे नेताओं को जवाब देंगी। प्रियंका चतुर्वेदी के शिवसेना में आने पर उन्होंने कहा कि कई सालों तक प्रियंका कांग्रेस में रहीं। बुरे वक्त में भी उन्होंने कांग्रेस का बचाव किया। कांग्रेस ने उनके साथ अच्छा व्यवहार नहीं किया। बुरे व्यवहार की वजह से वो शिवसेना से जुड़ीं हैं। हम प्रियंका चतुर्वेदी का स्वागत करते हैं।