Moneycontrol » समाचार » राजनीति

Jammu & Kashmir: 3 नजरबंद नेता रिहा, महबूबा मुफ्ती की बेटी ने उठाए सवाल

5 अगस्त को Article 370 हटाए जाने के बाद से नजरबंद रहे तीन नेताओं को गुरुवार को रिहा कर दिया गया
अपडेटेड Oct 10, 2019 पर 15:45  |  स्रोत : Moneycontrol.com

Jammu-Kashmir से 5 अगस्त को Article 370 हटाए जाने के बाद से नजरबंद रहे तीन नेताओं को गुरुवार को रिहा कर दिया गया। अधिकारियों ने यावर मीर, नूर मोहम्मद और शोएब लोन को उनके हिरासत को खत्म करने के कारणों के साथ कई आधारों पर रिहा किया।


यावर मीर रफियाबाद विधानसभा सीट से पीडीपी के विधायक रह चुके हैं, नूर मोहम्मद नेशनल कॉन्फ्रेंस के कार्यकर्ता हैं और वहीं शोएब लोन उत्तरी कश्मीर से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ चुके हैं।


इन नेताओं को रिहा किए जाने से पहले अधिकारियों ने बुधवार को बताया था कि नूर मोहम्मद को रिहा करने से पहले उनसे अपना व्यवहार अच्छा और शांति बनाए रखने के शर्त वाले बॉन्ड पर हस्ताक्षर करवाया जाएगा।


इस पर महबूबा मुफ्ती की बेटी इल्तिज़ा ने सवाल उठाए हैं। महबूबा का ट्विटर देख रहीं इल्तिज़ा ने ट्वीट कर कहा कि जब इन नेताओं को हिरासत में लेना ही गैर-कानूनी था, तो उनसे किसी बॉन्ड पर दस्तखत कैसे करवाया जा सकता है? इल्तिज़ा ने बताया कि उनकी मां समेत कई नेताओं ने इस बॉन्ड पर हस्ताक्षर करने से मना कर दिया है।


बता दें कि इसके पहले प्रशासन ने 21 सितंबर को पीपुल्स कॉन्फ्रेंस के इमरान अंसारी और सैयद अखून को स्वास्थ्य कारणों के चलते रिहा किया था।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।