Moneycontrol » समाचार » राजनीति

लोकसभा चुनाव 2019: जानिए दिग्विजय और प्रज्ञा ने अब तक कितने रुपये किए खर्च

प्रकाशित Thu, 09, 2019 पर 12:25  |  स्रोत : Moneycontrol.com

मध्य प्रदेश की भोपाल लोकसभा सीट पर छठे चरण में पूरे देश की निगाहें टिकी हुई हैं। कांग्रेस ने एमपी के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विदय सिंह को टिकट दिया है। ऐसे में उनके सामने बीजेपी ने साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को मैदान में उतारा है। भोपाल लोकसभा सीट में इन दिनों भगवा ही चारो तरफ नजर आ रहा है। दिग्विजय सिंह हवन यज्ञ कर रहे हैं। साथ उनकी जीत के लिए, राज्य के बीजेपी सरकार में मत्री रह चुके, कम्प्यूटर बाबा हठ योग के सहारे जीत का स्वाद चखाने का दावा कर रहे हैं। इधर बीजेपी की उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर आंतकवाद को लेकर दिग्विजय सिंह को घेर रही है। दोनों ही उम्मीदवा जमकर चुनाव प्रचार कर रहे हैं। ऐसे में हम आपको बता रहे हैं कि दोनों प्रत्याशियों ने अब तक कितने रुपये खर्च किए।
 


मीडिया रिपोर्ट्स में आई खबरों के मुताबिक, चुनाव आयोग ने अपने पर्यवेक्षकों के जरिए उम्मीदवारों के खर्च की रिपोर्ट जारी की है। इस रिपोर्ट के मुताबिक, दिग्विजय सिंह ने अब तक 650 लोगों को चाय पिलाई है। जब कि प्रज्ञा ने 580 लोगों को टोपी पहना चुकी हैं। 
दिग्विजय सिंह 2 मई तक 21.30 लाख रुपये प्रचार में खर्च कर चुके हैं। जबकि प्रज्ञा सिंह ठाकुर चुनाव खर्च की दूसरी रिपोर्ट के मुताबिक, 6 मई तक 11.43 लाख खर्च कर चुकी हैं। 


जांच के मुताबिक, दिग्विजय सिंह को प्रदेश कांग्रेस कमेटी की ओर से 50 लाख रुपये दो किश्तों में मिले हैं। पहली किश्त 18 अप्रैल को 10 लाख रुपये मिले, जब दूसरी किश्त 22 अप्रैल को 40 लाख मिले।


वहीं साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर चुनाव प्रचार के दौरान 4.4 लाख रुपये भिक्षा के रूम में जुटाए। उन्हें अभी तक पार्टी की ओर से कुछ भी नहीं मिला है।


प्रज्ञा सिंह ठआकुर ने 1,219 रुपये 581 टोपियों पर, 3,200 रुपये ढोल पर, 1,500 रुपये के 300 कप चाय, 3,200 रुपये के फूल और 8,165 रुपये किराए की कुर्सियों पर खर्च किये।


आपको बता दें कि चुनाव आयोग नियमों के मुताबिक, आयोग के पर्यवेक्षक उम्मीदवारों के खर्च के बीच कम से कम तीन बार जांच कर सकते हैं। दो जांचों के बीच में कम से कम 3 दिन का अंतर होना चाहिए और आखिरी निरीक्षण पोलिंग के तीन दिन से अधिक पहले नहीं किया जा सकता।