Moneycontrol » समाचार » राजनीति

Love Jihad: 10 साल की सजा के प्रावधान के साथ योगी सरकार आज लगा सकती है कानून पर मुहर

योगी आदित्यानाथ की हरी झंडी के बाद इसे कैबिनेट बैठक में प्रस्तुत किए जाने की तैयारी है।
अपडेटेड Nov 24, 2020 पर 15:14  |  स्रोत : Moneycontrol.com

पूरे देश में ज्यादातर भाजपा शासित प्रदेशों में हाल के कुछ दिनों से लव जिहाद के खिलाफ लड़ाई छिड़ी है और इस पर अंकुश लगाने के लिए कड़े कानून लाये जाने की बात हो रही है। हालांकि गैर भाजपा शासित राज्य पर इस पर बात करने से बच रहे हैं। ऐसे सारे भाजपा शासित राज्यों में इस मामले में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सबसे आगे चलते दिख रहे हैं क्योंकि ऐसी उम्मीद जताई जा रही है कि आज योगी कैबिनेट में लव जिहाद से संबंधित कानून पर मुहर लग सकती है।


इस मामले में पहले स्टेट लॉ कमीशन ने अपनी भारी-भरकम रिपोर्ट मुख्यमंत्री को सौंपी थी, जिसके बाद यूपी के गृह विभाग ने बाकायदा इसकी रूपरेखा तैयार कर न्याय एवं विधि विभाग से अनुमति ली है। अब योगी आदित्यानाथ की हरी झंडी के बाद इसे कैबिनेट बैठक में प्रस्तुत किए जाने की तैयारी है। सूत्रों के अनुसार आज शाम को 4.30 बजे होने वाली कैबिनेट बैठक में लव जिहाद के कानून पर अंतिम मुहर लग सकती है।


न्यूज 18 की खबर के मुताबिक देश के दूसरे राज्यों की तरह उत्तर प्रदेश में भी लव जिहाद के खिलाफ योगी सरकार कड़ा कानून लाने जा रही है। यूपी में अब लव जिहाद के नाम पर धर्म परिवर्तन कराने वाले और महिलाओं के साथ अत्याचार करने वालों की खैर नहीं है। माना जा रहा है कि योगी सरकार आज यानी मंगलवार को अपनी कैबिनेट बैठक में लव जिहाद के खिलाफ कानून पर अंतिम मुहर लगा सकती है।


लव जिहाद के खिलाफ जो प्रस्ताव तैयार किया गया है, उसमें इस कानून के बनने के बाद इसके अंतर्गत अपराध करने वालों को 5 से 10 साल की सजा का प्रावधान किया गया। ये कानून बनने के बाद शादी के नाम पर धर्म परिवर्तन भी नहीं किया जा सकेगा। यही नहीं शादी कराने वाले मौलाना या पंडित को उस धर्म का पूरा ज्ञान होना चाहिए। कानून के मुताबिक धर्म परिवर्तन के नाम पर अब किसी भी महिला या युवती के साथ उत्पीड़न नहीं हो सकेगा और ऐसा करते पाये गये तो जेल जाना होगा।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।