Moneycontrol » समाचार » राजनीति

Maharashtra CM: शिवसेना पेश करेगी सरकार बनाने का दावा, कांग्रेस बाहर से देगी समर्थन

बीजेपी की 30 साल पुरान सहयोगी शिवसेना ने कुर्सी की खींचतान के बीच पार्टी से सारे रिश्ते तोड़ लिए हैं
अपडेटेड Nov 12, 2019 पर 10:14  |  स्रोत : Moneycontrol.com

महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी की 30 साल पुरानी सहयोगी शिवसेना ने वहां चल रही कुर्सी की खींचतान के बीच बीजेपी से सारे रिश्ते तोड़ लिए हैं। शिवसेना आज यानी सोमवार को गवर्नर से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश करेगी। शिवसेना कांग्रेस और नेशनल कांग्रेस पार्टी के साथ मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश कर सकती है लेकिन फिलहाल कांग्रेस और एनसीपी दोनों ही अपने अगले कदम को लेकर इमरजेंसी बैठकें कर रही हैं।


शिवसेना ने बीजेपी से सारे रिश्ते तोड़ लिए हैं। NDA में पार्टी के एकलौते केंद्रीय मंत्री अरविंद सावंत ने भी सोमवार को मोदी कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया है, जिसके बाद दोनों के साथ रहने की कोई गुंजाइश नहीं रह गई है। शिवसेना ने सावंत के इस्तीफे के बाद ऐलान कर दिया है कि उसका बीजेपी के साथ कोई रिश्ता नहीं है।


शिवसेना लीडर संजय राउत ने गठबंधन टूटने का ठीकरा बीजेपी के सिर फोड़ा है। उन्होंने सोमवार को कहा कि राज्य को इस स्थिति में भेजने की जिम्मेदारी बीजेपी की है। राउत ने कहा कि बीजेपी में इतना अहंकार है कि वो विपक्ष में बैठने को तैयार है लेकिन हमारे साथ मिलकर समझौते के मुताबिक सरकार बनाने को तैयार नहीं है।


सरकार बनाने के दावे के साथ शिवसेना आज गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी से मिलने वाली है। शिवसेना विधायक दल के नेता एकनाथ शिंदे अपने विधायक दल के साथ आज शाम 5 बजे गवर्नर से मिलने जाने वाले हैं। पहले यह मुलाकात दोपहर 2:30 बजे रखी गई थी।


उधर, कांग्रेस शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने पर विचार कर रही है। महाराष्ट्र में उसे विधायक शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने के पक्ष में हैं, वहीं पार्टी के आलाकमान को शिवसेना के साथ हाथ मिलाने के प्रस्ताव के साथ अपने राष्ट्रीय राजनीति की भी चिंता करनी है। उधर एनसीपी चीफ शरद पवार ने कहा है कि वो आज कांग्रेस से बातचीत करेंगे। कांग्रेस से विचार-विमर्श होने के बाद ही कोई फैसला लिया जाएगा। कांग्रेस आज शाम चार बजे तक तय करेगी कि वो शिवसेना के नेतृत्व में सरकार बनाएगी या नहीं।


हालांकि, जानकारी आई है कि शिवसेना नेता संजय राउत को लीलावती अस्पताल में भर्ती कराया गया है। न्यूज18 इंडिया की खबर के मुताबिक, राउत को सीने में तेज दर्द उठने की वजह से अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उनकी एंजियोग्राफी होगी और डॉक्टर ने उन्हें दो दिन के आराम की सलाह दी है। इस आपात स्थिति में राउत का भर्ती होना शिवसेना के लिए चिंता का विषय हो सकता है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।