Moneycontrol » समाचार » राजनीति

Maharashtra: अब कांग्रेस MLAs पहुंचे रिसॉर्ट, पार्टी बदलने के लिए 25-50 करोड़ का ऑफर मिलने का किया दावा

कांग्रेस के कुछ विधायकों ने दावा किया है कि उन्हें पार्टी बदलने के लिए पैसे ऑफर किए जा रहे हैं
अपडेटेड Nov 08, 2019 पर 15:52  |  स्रोत : Moneycontrol.com

महाराष्ट्र विधानसभा के नतीजे आए हुए दो हफ्ते से ज्यादा का वक्त हो गया है और राज्य में सरकार बनती हुई दूर-दूर तक नजर नहीं आ रही है। भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना के गठबंधन में नतीजे आते ही फूट पड़ती दिख रही है। शिवसेना 50-50 के फॉर्मूले पर अटकी हुई है बीजेपी भी झुकती नजर नहीं आ रही है। अब कांग्रेस को भी पोचिंग का डर सताने लगा है।


कांग्रेस ने अपने विधायकों को जयपुर के एक रिसॉर्ट में ठहरा दिया है। शिवसेना ने पहले ही अपने विधायकों को मुंबई के ट्राइडेंट होटल में ठहरा रखा है। कांग्रेस के कुछ विधायकों ने दावा किया है कि उन्हें पार्टी बदलने के लिए पैसे ऑफर किए जा रहे हैं।


कांग्रेस नेता विजय वडेट्टीवार ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि महाराष्ट्र में पार्टी बदलने के लिए विधायकों को 25 करोड़ रुपए से लेकर 50 करोड़ रुपए तक देने की पेशकश की जा रही है। उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस विधायकों को भी इस तरह के ऑफर्स के साथ फोन पर कॉन्टैक्ट किया गया है।


वडेट्टीवार ने कहा कि शिवसेना ने दावा किया है कि उनके एक विधायक को पार्टी बदलने के लिए 50 करोड़ रुपये की पेशकश की गई थी और कांग्रेस के विधायकों से भी संपर्क किया जा रहा है। विधायकों को 25 से 50 करोड़ रुपए की पेशकश कर लुभाने की कोशिश की जा रही है। वडेट्टीवार ने कहा कि पार्टी ने अपने विधायकों को ऐसी कॉल रिकॉर्ड करने के लिए कहा है ताकि जनता उनके बारे में जान सके। हालांकि उन्होंने कांग्रेस विधायकों को रिसॉर्ट में ठहराने की खबरों का खंडन किया। उन्होंने कहा कि वो लोग अपनी छुट्टी पर गए होंगे।


इन खबरों के बीच कांग्रेस लीडर हुसेन दलवई ने शुक्रवार को कहा उनकी पार्टी के विधायक पार्टी के साथ बने हुए हैं और उन्हें तोड़ा नहीं जा सकेगा।


उधर बीजेपी ने इन आरोपों को खारिज किया है। उसका कहना है कि वो सरकार बनाने के लिए किसी दूसरी पार्टी के विधायकों के संपर्क में नहीं है।


बता दें कि 288 सीटों की विधानसभा चुनावों में 105 सीट जीत कर बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी है। उसकी सहयोगी शिवसेना 56 सीटों के साथ दूसरे स्थान पर रही है वहीं, कांग्रेस ने 44 और नेशनल कांग्रेस पार्टी ने 54 सीटें जीती हैं। बहुमत के लिए 145 सीटों की जरूरत होगी।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।