Moneycontrol » समाचार » राजनीति

ममता बनाम सीबीआई टकराव और तेज

प्रकाशित Mon, 04, 2019 पर 16:44  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

सारदा चिटफंड स्कीम को लेकर शुरू हुआ सीबीआई बनाम ममता बनर्जी टकराव और बढ़ती जा रही है। कल रात भर इसको लेकर हाई वोल्टेज ड्रामा चला। यहां तक कि कोलकाता के पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के समर्थन में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी धरने पर पहुंच गई। यहां तक कि सीबीआई अफसरों को थाना भी ले जाया गया। आज संसद में भी ये मामला गूंजा। गृह मंत्रालय ने पश्चिम बंगाल के राज्यपाल से हालात पर रिपोर्ट भी मंगाई है। उधर ममता बनर्जी मोदी सरकार पर दादागिरी का आरोप लगा रही है। वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुरुआत में ममता का समर्थन किया लेकिन अब कांग्रेस नेता पश्चिम बंगाल नहीं जा रहे हैं। लेकिन कई विपक्षी नेता ममता के समर्थन में हैं।


वहीं केंद्र और टीएमसी के बीच लड़ाई और बढ़ती जा रही है। बीजेपी का एक प्रतिनिधिमंडल रक्षा मंत्री निर्मला सीतारामन की अगुवाई में आज चुनाव आयोग से भी मिला। राज्य के हालात के बारे में रक्षा मंत्री ने चुनाव आयोग को बताया। उन्होंने कहा पश्चिम बंगाल में फ्री और फेयर चुनाव मुमकिन नहीं है।  पार्टी ने चुनाव आयोग को अधिकारियों की एक लिस्ट भी सौंपी है जिन पर आरोप लगाया है कि वो टीएमसी नेताओं के आदेश के मुताबिक काम कर रहे हैं। हाल में ही यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हेलिकॉप्टर को भी राज्य में नहीं उतरने दिया गया था।


इस मामले पर केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने संसद में बयान दिया। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई को मामले में जांच का आदेश दिया था लेकिन लगातार समन के बाद भी कोलकाता के पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार उपस्थित नहीं हुए।


वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि वो पश्चिम बंगाल के घटनाक्रम की निंदा करते हैं और चुनाव में मोदी सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए सभी दलों को एकजुट होने की अपील की। पश्चिम बंगाल मुद्दे पर कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने पार्लियामेंट में सवाल उठाए। उन्होंने मोदी सरकार पर सीबीआई के दुरूपयोग का आरोप लगाया।