Moneycontrol » समाचार » राजनीति

मणिपुर: सियासी संकट से उबरी BJP सरकार, NPP ने फिर दिया समर्थन

मणिपुर में BJP सरकार के बहुमत खोने पर पूर्वी राज्यों के संकट मोचक कहे जाने वाले हिमंता विश्व शर्मा ने नाराज विधायकों को मनाने में अहम भूमिका निभाई है
अपडेटेड Jun 25, 2020 पर 15:13  |  स्रोत : Moneycontrol.com

मणिपुर में पिछले दिनों से जिस तरह से BJP सरकार पर संकट के बादल छाए थे, अब ये संकट के बादल छंट गए हैं। सीएम बीरेन सिंह की कुर्सी बच गई है। इस कुर्सी को बचाने में हिमंता विश्व शर्मा ने अहम भूमिका निभाई है। दरअसल, मणिपुर में राज्यसभा चुनाव से ठीक पहले BJP के तीन विधायकों ने पार्टी का साथ छोड़कर कांग्रेस का दामन थाम लिया था। इसके बाद सरकार की सहयोगी पार्टी नेशनल पीपुल्स पार्टी (NPP) के 4 मंत्री भी नाराज होकर सरकार से समर्थन वापस ले लिया था। इन मंत्रियों में NPP के डिप्टी सीएम जय कुमार सिंह भी शामिल थे। इसके अलावा TMC के एक विधायक ने भी समर्थन वापस ले लिया था। ऐसे मणिपुर में BJP सरकार अल्पमत में आ गई।


राज्य सभा चुनाव में BJP को एक सीट में जीत मिलने के बाद पार्टी ने हिमंत विशअव शर्मा को नाराज विधायकों को मनाने के लिए लगा दिया। जिसके बाद पूर्वोतर के संकट मोचक कहे जाने वाले शर्मा ने NPP के विधायकों की मीटिंग अमित शाह से करा दी। इसके बाद विधायकों की नाराजगी दूर हो गई और BJP को समर्थन देने के लिए विधायक राजी हो गए।


मीटिंग खत्म होने के बाद विश्व शर्मा ने ट्वीट कर कहा कि NPP के सदस्यों ने गृहमंत्री अमित शाह मुलाकात की और कहा कि BJP और NPP मिलकर मणिपुर का विकास करने का फैसला किया है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।